Tuesday, June 19, 2018

विशेष लेख : लाल पानी में दूध की धार

केवल कृष्ण ढोलकाल के शिखर पर गणपति मुस्कुरा रहे हैं। बादलों से लिपटी बैलाडीला की पहाड़ियां उचक-उचक कर देख रही हैं। शंखनी-डंकनी मचल रही हैं।...

रमनराज को आदिवासियो ने नकारा… क्या होगा आगामी पांच वर्ष

सम्पादकीय आदिवासी बाहुल्य छत्तीसगढ मे तीसरी बार भाजपा को जनादेश मिला, और वो सरकार बना रही है। लेकिन सरगुजा और बस्तर मे सीटो का अप्रत्याशित...

रमन ने बदली छत्तीसगढ़ के खेल जगत की तस्वीर

देश के किसी भी राज्य में खेलों के विकास और खेल प्रतिभाओं को बढ़ावा देकर एक बेहतर खेल वातावरण के निर्माण में वहां के...

“असमिया धुन मा छत्तीसगढ़िया राग छत्तीसगढ़ मा होइस पहुना संवाद”

वैभव शिव पाण्डेय की कलम से  आवा दे बेटी फागुन तिहार...मारबो बोकरा करबो शिकार............हे वोति कोन सेन रे मुना महुआ रे...........। धुन असमिया हे...फेर बोल...

अब मंतरी मन बर रेड सिग्नल … लाल बत्ती खतरा हे !

वैभव शिव पाण्डेय रेड सिग्नल वइसे खतरा के निसान माने जाथे। फेर इही खतरा के निसान कोन जनि कब ले नेता-मंतरी ले के अधिकारी मन...

मध्यप्रदेश में अंधेरा बीती बात…..

ताहिर अली मध्यप्रदेश सरकार ने बिजली क्षेत्र के विकास को एक चुनौती तथा संकल्प के रूप में लेते हुए इसे अपनी प्राथमिकता में रखा है।...

सिवनी-मालवा की आँगनवाड़ियों में कुछ अलग है माहौल…

सुनीता दुबे रंग-बिरंगी कुर्सियाँ नन्हे-मुन्नों में कितना अद्भुत परिवर्तन ला सकती हैं, यह जानना है तो पहुँच जाइये होशंगाबाद जिले के सिवनी-मालवा तहसील की किसी...

चुनाव आते ही मक्खी की तरह भिनभनाते लगते है नेता…

संपादकीय बरसात आते ही मेढक टरटराने लगते है। गंदगी होते ही मक्खी भिनभिनाने लगती है। फूल खिलते ही भंवरे मंडराने लगते है। रात होते है...

मजदूर मोर्चा की बैठक मे सांसद कमलभान सिंह मौजूद रहे…

अम्बिकापुर   आज  27 जुलाई को स्थानीय भाजपा कार्यालय संकल्प भवन में भारतीय जनता मजदुर मोर्चा सरगुजा के जिला कार्यसमिति की बैठक आयोजित कि गई जिसमें...

विशेष लेख : परंपराओं की गोद, कलाओं का पलना

केवलकृष्ण नांदगांव वही शहर है जो अक्सर पूछता है- जरा बताओ तो मेरे दोस्त तुम्हारी राजनीति क्या है। नांदगांव वही शहर है जो बताता है...