Thursday, December 8, 2022

कुतुब मीनार..

0
दिल्‍ली के अंतिम हिन्‍दू शासक की पराजय के तत्‍काल बाद 1193 में कुतुबुद्धीन ऐबक द्वारा इसे 73 मीटर ऊंची विजय मीनार के रूप में...

दिल्ली का पुराना किला..

0
यह किला प्रगति मैदान से ज्‍यादा दूर नहीं है यह किला काफी निर्जन स्‍थान पर चारों तरफ बहुधा हरियाली है। दिल्‍ली इन्‍द्रप्रस्‍थ के कई...

संसद भवन..

0
संसद भवन एक वर्तुल श्रेणी क्रम (स्‍तंमावली) भवन है। इसमें कई सचिवालय कार्यालय, कई समितियों के कक्ष और एक उत्‍कृष्‍ट पुस्‍तकालय है। इम्पीरियल शैली...

लोधी का मकबरा..

0
पुराना ओल्‍ड लेडी वैलिन्‍गटन पार्क अब इसे लोदी गार्डन के नाम से पुकारा जाता है जिसमें सैयद और लोदीकालीन स्मारक हैं, जिनमें गुम्बद, मस्जिदें...

दिल्ली की जंतर मंतर

0
जंतर मंतर (यंत्र-उपकरण मंत्र : फार्मुला) का निर्माण 1724 ई. में पूरा हुआ था। जयपुर के महाराजा जयसिंह ने इस वेधशाला का निर्माण कराया...

जामा मस्जिद..

0
पुरानी दिल्‍ली की यह भव्‍य मस्जिद भारत की सबसे बड़ी मस्जिद है इसके प्रांगण में 25,000 श्रद्धालु तक समाहित हो सकते हैं। इसका निर्माण...

इंडिया गेट

0
नई दिल्‍ली के मध्‍य चौराहे में 42 मीटर ऊंचा इंडिया गेट है जो मेहराबदार "आर्क-द ट्रायम्‍फ" के रूप में है। इसके फ्रैंच काउंटरपार्ट के...

हुमायुं का मकबरा

0
मथुरा रोड और लोधी रोड की क्रासिंग के समीप स्थित, बागीचे के बीच बना यह शानदार मकबरा भारत में मुग़ल वास्तुकला का पहला महत्वपूर्ण...

गार्डन ऑफ फाइव सेंसिज (पांच इंद्रियो के गार्डन)

0
दी गार्डन ऑफ फाइव सेंसिज़ मात्र क पार्क नहीं है, यह वह स्थान है, जहां विभिन्न प्रकार की गतिविधियों जनता को वहां आकर अन्वेषण...

दिल्ली हाट आईएनए…

0
        जो शिल्पकार डी.सी.हैंडिक्राफ्ट्स के द्वारा पंजीकृत घोषित होते हैं, वे यहां स्थान पाने के पात्र होते हैं। यहां के स्टाल हस्तशिल्प वस्तुओं की बिक्री...