कोरोना पर CM की बैठक: पहली से लेकर कक्षा 12वीं तक के सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूल 31 जनवरी तक बंद रहेंगे

भोपाल. मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों के साथ बैठक की. इसमें कई पाबंदियां लगाई गई हैं. वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए 15 जनवरी से 31 जनवरी तक कक्षा 1 से लेकर कक्षा 12 तक के सभी स्कूल बंद रहेंगे.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान निवास से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिला, विकासखंड, वार्ड तथा ग्राम स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्यों के साथ चर्चा कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सभी प्रकार के मेले चाहे वाणिज्यिक हों या धार्मिक मेलों पर प्रतिबंध रहेगा. कोई जुलूस और रैली, राजनीतिक या सामाजिक सभा भी प्रतिबंधित रहेगी. हॉल के अंदर होने वाले कार्यक्रम में हॉल की क्षमता की 50% ही उपस्थिति सुनिश्चित की जाए. समस्त राजनीतिक, धार्मिक, शैक्षणिक, मनोरंजन आदि कार्यक्रम अगर खुले में आयोजित किए जाते हैं तो अधिकतम संख्या ढाई सौ रहेगी. बड़ी रैली, बड़ी सभा, बड़े आयोजन अभी प्रतिबंधित रहेंगे. सभी प्रकार की खेल गतिविधियां बिना दर्शकों के की जा सकेंगी. प्री-बोर्ड की परीक्षाएं 20 जनवरी से किया जाना प्रस्तावित था उन परीक्षाओं को टेक होम एग्जाम के रूप में आयोजित किया जाए. कक्षा 1 से लेकर कक्षा 12वीं तक के सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूल 31 जनवरी तक बंद रहेंगे.

सीएम चौहान ने कहा कि टीकाकरण के लिए शत-प्रतिशत लोगों को कवर करें. कार्य के लिए बाहर जाने वाले लोगों की संख्या की पुष्टि करें. माइग्रेटेड लोगों की सूची बनाएं. टीकाकरण सबसे बड़ी सुरक्षा है. इसकी ग्राम स्तर तक समीक्षा हो. सभी जन प्रतिनिधि इस अभियान से जुडें. सभी के प्रयत्नों और सामूहिक सहयोग से अच्छे परिणाम मिलेंगे. सीएम चौहान ने कहा कि वैक्सीनेशन के कार्य में लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी. घर-घर दस्तक दें, टीकाकरण का कार्य पूर्ण हो. वैक्सीन ही कोविड से सुरक्षा का मजबूत कवच है.

बैठक में मुख्यमंत्री चौहान ने इंदौर में निजी तौर पर अधिक टेस्ट की जानकारी मिलने पर निर्देश देते हुए कहा कि यदि प्राइवेट रूप से टेस्ट हों तो उन्हें भी रिकॉर्ड में लिया जाए. कोविड के 3.3 प्रतिशत मरीज ही एडमिट हैं, चिंता नहीं करना है लेकिन असावधान भी नहीं होना है, व्यवस्थाएं बेहतर बनाकर रखें. इस लहर में सबसे जरूरी है होम आइसोलेशन. होम आइसोलेशन में सावधानी के प्रति जागरूकता फैलाएं. सीएम चौहान ने कहा कि कोविड से तीसरी लहर से मुकाबले की तैयारी चाक-चौबंद और व्यवस्थाएं दुरुस्त रखें. टीकाकरण का कार्य निरंतर जारी रहे.

आदेश-