रिया चक्रवर्ती को मिल गई बेल…एक लाख के बॉन्ड पर हुई जमानत..

फटाफट डेस्क : ड्रग मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने रिया चक्रवर्ती को रिहा है। एक लाख के बॉन्ड पर उन्हें ये जमानत मिली है. लेकिन रिया को कुछ निर्देशों का पालन करना होंगा जैसे कि – रिया को पासपोर्ट जमा करना होगा.  वह कोर्ट की अनुमति के बिना विदेश यात्रा नहीं कर सकती हैं. जब भी एनसीबी उन्हें पूछताछ के लिए बुलाएगी उन्हें हाजिर होना होगा. पूछताछ में सहयोग करना होगा. ग्रेटर मुंबई छोड़ने पर भी उन्हें जांच अधिकारियों को इस बारे में बताना होगा। वहीं रिया के भाई शौविक को जमानत नहीं मिल पाई है. शौविक रिया की गिरफ्तारी से दो दिन पहले अरेस्ट हुए थे। रिया चक्रवर्ती को ड्रग मामले में बेल मिली है. वहीं रिया के भाई शौविक को जमानत नहीं मिल पाई है. शौविक रिया की गिरफ्तारी से दो दिन पहले अरेस्ट हुए थे। शौकिक चक्रवर्ती 20 अक्टूबर तक जेल में ही रहेंगे.

रिया चक्रवर्ती को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने ड्रग्स मामले में 8 सितंबर को गिरफ्तार किया था। रिया ने स्पेशल एनडीपीएस कोर्ट में ज़मानत के लिए अर्ज़ी डाली. कोर्ट ने उसे खारिज करते हुए रिया और शौविक को फिर से दो हफ्ते के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. 6 अक्टूबर तक के लिए. इसके बाद रिया और शौविक को 20 अक्टूबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया था. अब रिया को जमानत मिल गई है, जबकि उनके भाई 20 अक्टूबर तक रिमांड पर रहेंगे.

रिया चक्रवर्ती पर सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स का इंतजाम करने और ड्रग सिंडिकेट से जुड़े होने जैसे आरोप लगाए गए हैं. आरोप है कि रिया ने अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर सुशांत के लिए ड्रग खरीदी थी. एनसीबी का दावा है कि रिया ने सुशांत के लिए ड्रग्स खरीदने की बात स्वीकार की थी, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया. इस पूरे प्रकरण में NCB सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा और सुशांत के लिए ड्रग्स अरेंज करने वाले ज़ैद और बासित को भी गिरफ्तार कर चुकी है।

हालांकि रिया ने अपनी याचिका में कहा था कि जांच और पूछताछ के दौरान एनसीबी की ओर से उन पर दबाव बनाया गया. इसी के चलते उन्होंने ड्रग्स खरीदने की बात स्वीकार की. उन्होंने दावा किया कि उन्होंने कोई जुर्म नहीं किया है. एनसीबी का कहना था कि रिया का कन्फेशन बिना किसी दबाव के था।