CM के OSD ने इस्तीफ़ा दिया तो बवाल, क्या आलाकमान राजस्थान और छत्तीसगढ़ को लेकर जल्द फैसला लेने वाला है?

नई दिल्ली। पंजाब में चल रहे सियासी घमासान के बीच राजस्थान से कांग्रेस के लिए बुरी खबर सामने आ रही है। दरअसल, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा ने शनिवार (18 सितंबर) देर रात को अपना इस्तीफा दे दिया। पंजाब में चल रहे सियासी घटनाक्रम के बीच लोकेश शर्मा ने 18 सितंबर को ट्वीट किया, “मजबूत को मजबूर, मामूली को मगरूर किया जाए। बाड़ ही खेत को खाए, उस फसल को कौन बचाए।” इस्तीफे की वजह लोकेश शर्मा द्वारा किया गया ट्वीट बताया जा रहा है। उनके ट्वीट को पंजाब के घटनाक्रम के साथ जोड़कर देखा जा रहा था।

शर्मा ने अपने इस्तीफे में लिखा है कि उनके ट्वीट को राजनीतिक रंग देते हुए पंजाब के घटनाक्रम से जोड़ने का काम किया जा रहा है। इसलिए वे अपना इस्तीफा दे रहे हैं। गहलोत के सोशल मीडिया का कामकाज संभालने वाले लोकेश शर्मा ने लिखा:-

“आज दिन में मेरे द्वारा किए गए ट्वीट को राजनीतिक रंग दिया गया और गलत अर्थ निकालकर पंजाब के घटनाक्रम से जोड़ा जा रहा है। मैं साल 2010 से ट्विटर पर सक्रिय हूँ और मैंने आज तक पार्टी लाइन से अलग के कांग्रेस के किसी भी छोटे से लेकर बड़े नेता के संबंध में और प्रदेश की कांग्रेस सरकार को लेकर कभी कोई ऐसे शब्द नहीं लिखे हैं, जिन्हें गलत कहा जा सके।”

उन्होंने आगे लिखा, “मैं लगभग रोजाना ही ट्वीट करता रहता हूँ। मेरे आज के ट्वीट से किसी भी रूप में पार्टी, सरकार और आलाकमान की भावनाओं को ठेस पहुँची हो तो मैं इसके लिए माफी माँगता हूँ। मैं अपना इस्तीफा भेज रहा हूँ, निर्णय आपको करना है।”

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पंजाब, राजस्थान के साथ-साथ छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस में गुटबाजी चल रही है। सियासी जानकारों का कहना है कि कांग्रेस आलाकमान दोनों राज्यों को लेकर जल्द ही फैसला ले सकता हैं। बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार (18 सितंबर) को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कांग्रेस आलाकमान से कहा कि वो अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे और राजभवन जाकर पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को अपना इस्तीफा सौंप दिया। जिसके बाद चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब का नया सीएम बनाया गया है।

whatsapp group