सरकारी अस्पताल से रिफर बीमार महिला को एम्बुलेंस नही मिलने के मामले में…सांसद प्रतिनिधि धीरज सिंहदेव ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन.. कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश!..

बलरामपुर. सूरजपुर जिले के रेवटी चौकी क्षेत्र में बीमार महिला को पुलिस द्वारा रोके जाने..और महिला के वापस लौटने के दौरान हुई..महिला के मौत के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है..वही इस मामले को लेकर आज राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम के सांसद प्रतिनिधि धीरज सिंहदेव ने समय पर जरूरत मंद बीमार महिला को एम्बुलेंस नही मिल पाने की घटना को लेकर ज्ञापन सौंपा है..इसके साथ ही उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग की है..

दरअसल ग्राम गैना निवासी बिहानी पति रामाधार पिछले कुछ दिनों से बीमार थी..उसका इलाज रघुनाथनगर सरकारी अस्पताल में चल रहा था..और डाक्टरो ने उसे (महिला को) 1 अगस्त को अम्बिकापुर मेडिकल कालेज रिफर किया था..लेकिन अस्पताल में एम्बुलेंस के उपलब्ध नही होने से बिहानी को किराए के वाहन से अम्बिकापुर मेडिकल कालेज निकले थे..और रेवटी चौकी क्षेत्र के धोन्धा में पुलिस ने जांच नाके पर बीमार महिला को रोक कर वापस भेज दिया था..और केनवारी गांव के समीप महिला की मौत हो गई..

वही आज राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम के सांसद प्रतिनिधि धीरज सिंहदेव ने बीमार महिला को अस्पताल से एम्बुलेंस नही मिल पाने की घटना को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है..और दोषी अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग है..

जिसके बाद कलेक्टर श्याम धावड़े ने इस मामले को गम्भीरता से लेते हुए..महिला को एम्बुलेंस नही मिल पाने के मामले में मुख्यचिकित्सा अधिकारी ज्ञानेश चौबे को जांच कर जांच रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए है..