Chhattisgarh News: क्या मुंडन करवाने से मिलेगी अनुकंपा नियुक्ति? जानिए क्या है असल प्रावधान

रायपुर. अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर पिछले 72 दिन से लगातार विधवा महिलाएं आंदोलन कर रहे हैं। इसी क्रम में आज विधवा महिलाओं के भाइयों ने मुंडन करवाया। इससे पहले भी महिलाएं अलग-अलग स्तर में जाकर आंदोलन कर चुके हैं और अपनी एकमात्र मांग अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर अड़े हुए हैं, पर सवाल ये क्या वास्तव में इन महिलाओं को अनुकंपा नियुक्ति मिलेगी या नहीं?

अनुकंपा नियुक्ति का प्रावधान

बता दें कि जो महिलाएं अनुकंपा नियुक्ति की मांग कर रही हैं। वह 12वीं पास है, इन्हें टीचर एबिलिटी टेस्ट बीएड के बिना अनुकंपा नियुक्ति नहीं दी जा सकती। दिवंगत पंचायत शिक्षक अनुकंपा संघ के अध्यक्ष माधुरी मुर्गे ने बताया कि चुनाव के समय कांग्रेस के बड़े नेताओं ने कहा था कि सरकार बनने के बाद नियमों को शिथिल करेंगे और आपको नौकरी दी जाएगी, पर अब तक नौकरी नहीं दी गई है और अगर बीएड, डीएड करने का प्रावधान है, तो वह हम नहीं कर सकते घर परिवार देखेंगे या पढ़ाई करेंगे? हम चाहते हैं जिसकी जैसी योग्यता है वैसा रोजगार सरकार दे, सरकार ये कहती हैं कि ऐसा कोई प्रावधान हैं ही नही।

दिवंगत पंचायत शिक्षक अनुकंपा संघ के बैनर तले पिछले 72 दिन से दिन रात धरना स्थल पर महिलाएं अपनी मांगों को लेकर बैठी हुई है। इस बीच कई समाज संगठन, विपक्ष का समर्थन इन विधवा महिलाओं को मिला, लेकिन अब तक राज्य सरकार की तरफ से इसे लेकर कोई नोटिफिकेशन नहीं आया, लेकिन फिर भी संघ की महिलाएं इस इंतजार में है कि छत्तीसगढ़ सरकार जरूर उनकी सुनेगी।