CG: कलेक्टर और एसपी का बतौली दौरा, हायर सेकेंडरी के बच्चों ने रखी अपनी समस्याएं; नवीन आत्मानंद स्कूल भवन में खामियां देख नाराज हुए कलेक्टर


बतौली (फटाफट न्यूज) | प्रशांत खेमरिया

Surguja: शुक्रवार को सरगुजा कलेक्टर कुंदन कुमार और पुलिस अधीक्षक भावना गुप्ता बतौली क्षेत्र के दौरे पर थे। इस दौरान अधिकारियों ने मंगारी गौठान का निरीक्षण किया। इससे पहले दोनों अधिकारी बतौली के शांति पारा में स्थित आत्मानंद स्कूल के निरीक्षण पर भी पहुंचे थे। यहां पर हायर सेकेंडरी के बच्चों ने सरगुजा कलेक्टर के समक्ष अपनी समस्या रखी है। इस समय दो पालियों में स्कूल संचालित है जिसके संबंध में बच्चों ने कहा कि ठंड के दिनों में शाम के समय काफी अंधेरा हो जाता है जिससे उन्हें परेशानी होती है। सरगुजा कलेक्टर ने समस्या निराकरण का भरोसा जताया है। इसके अलावा नवीन आत्मानंद स्कूल भवन में व्याप्त समस्याओं के संदर्भ में सरगुजा कलेक्टर संबंधित विभाग पर जमकर नाराज हुए। उन्होंने पुराने भवन को दुरुस्त कर हायर सेकेंडरी के बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था कराने सख्त निर्देश दिए हैं।

गौरतलब है कि सरगुजा कलेक्टर कुंदन कुमार पुलिस अधीक्षक भावना गुप्ता के साथ शुक्रवार को बतौली क्षेत्र के दौरे पर थे। बतौली के शांति पारा में आत्मानंद स्कूल संचालित है। यहां पर भवनों के निरीक्षण के दौरान सरगुजा कलेक्टर उस समय काफी नाराज हो गए जब उन्होंने देखा कि इतनी जल्दी भवन की हालत खराब हो रही है। प्लिंथ के पास अभी से जोड़ छूट गया है।

गौरतलब है कि 3 साल पहले ही इस भवन का निर्माण हुआ है। फरवरी 2021 में खाद्य मंत्री अमरजीत भगत के हाथों इसका उद्घाटन किया गया था। लोक निर्माण विभाग द्वारा यह भवन बनाया गया है। कहीं-कहीं पुट्टी भी छूटने की शिकायत पाई गई है। सर्व शिक्षा अभियान के तहत पुराने लैब का पुनरुद्धार किया गया था लेकिन यहां भी काफी समस्याएं है। पुनरुद्धार के बाद भी यह भवन सीपेज कर रहा है। इसके अलावा दीवारों पर भी हलका हरा रंग लगाया गया है, जो दूरस्थ हालत में नहीं है।

बच्चों ने रखी अपनी समस्याएं

सरगुजा कलेक्टर के निरीक्षण के दौरान हायर सेकेंडरी स्कूल में अध्यनरत बच्चों ने सरगुजा कलेक्टर के सामने अपनी समस्यायें रखी। विद्यार्थियों ने बताया कि इस समय आत्मानंद के ही भवन में दो पालियों में स्कूल संचालित है। दूसरी पाली में उन्हें पढ़ाया जाता है। छुट्टी के बाद घर पहुंचते तक उन्हें काफी देर हो जाती है। ठंड के दिनों में जल्दी अंधेरा हो जाता है जिससे काफी मुश्किल होती है। पुराना हायर सेकेंडरी का भवन फिलहाल जर्जर है। कई जगह सीपेज करता है। मरम्मत के बाद भी हालात ठीक नहीं है। सरगुजा कलेक्टर ने बच्चों की पूरी बातें सुनी और बेहतर व्यवस्था का आश्वासन भी उन्होंने दिया। उन्होंने निर्देश दिया कि जिस भवन में नवोदय स्कूल का संचालन किया जाता था उसका मरम्मत कर बच्चों के लिए पढ़ाई की व्यवस्था कराई जाए ताकि बच्चे दो पालियों में पढ़ने से बच सके और समय पर घर जा सके। उन्होंने नवीन आत्मानंद स्कूल के सामने शेड निर्माण के संबंध में भी मुख्य कार्यपालन अधिकारी को निर्देश दिया और इस संबंध में एस्टीमेट प्रस्तुत करने भी कहा है।

मंगारी गौठान के निरीक्षण से हुए संतुष्ट

सरगुजा कलेक्टर स्कूल के निरीक्षण के बाद मंगारी गौठान पहुंचे थे। यहां पर दोनों अधिकारी काफी संतुष्ट नजर आए। गौरतलब है कि मंगारी गोठान में इस समय महिला समूह चंपा द्वारा बेकरी का निर्माण किया जाता है और अभी तक ₹84000 के ब्रेड और बेकरी महिला सदस्यों ने बेचे हैं जिसमें से 45000 का लाभ प्राप्त हुआ है। इसके अलावा जागृति महिला समूह द्वारा खीरा उत्पादन किया जाता है। सरगुजा कलेक्टर इतने प्रसन्न हुए कि उन्होंने स्वयं वहां पर खीरा खा कर देखा। मंगारी गौठान में डबरी का गहरीकरण करने के भी निर्देश सरगुजा कलेक्टर ने दिया है। बतौली में लगातार बिजली की आंख मिचौली से बेकरी निर्माण में काफी परेशानी आती है। कलेक्टर को जब इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय नारायण श्रीवास्तव को जनरेटर की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए हैं और इसके संबंध में राशि की जानकारी देने कहा है। मंगारी गौठान में बटेर, मुर्गी, लेयर पालन का निरीक्षण भी अधिकारियों ने किया।