कांग्रेसी निकले थे केन्द्र सरकार का विरोध करने…फिर लगाने लगे अपने ही जिलाध्यक्ष के विरोध में नारें…. कांग्रेसी ही आपस में भिडे़..जाने क्या है पूरा मामला..

जांजगीर चांपा। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं जिला संगठन प्रभारी अर्जुन तिवारी एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ.् चैलेश्वर चंद्राकर नेतृत्व में जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा आज पेट्रोल डीजल के मूल्यों हो रही अभूतपूर्व वृद्धि को लेकर स्थानीय नैला धर्मशाला से कचहरी चैक जांजगीर तक सायकल रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन का कार्यक्रम आयोजित किया। लेकिन जिला कांग्रेस कमेटी ने केन्द्र सरकार के विरोध करने को छोड़ अपने ही जिलाध्यक्ष के
खिलाफ विरोध में नारे लगाने शुरू कर दिया । इस तरह कचहरी चैक में जिला कांग्रेसी आपास में ही भीड़ गये,ं छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं जिला संगठन प्रभारी अर्जुन तिवारी एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ.् चैलेश्वर चंद्राकर की उपस्थिति में यह सब होता देख प्रदर्शन स्थल से निकल दोनो नेता सर्किट हाउस चले गये। बाकी कांग्रेसी डां. चरण दास मंहत जिंदाबाद के नारे लगाते रहे। जिला कांग्रेस कमेटी में एक बार फिर से गुटबाजी जगजाहिर हो गया .

जिलाध्यक्ष डां चैलेश्वर चन्द्राकर अपना विरोध होते देख मौके से निकलना ही ठीक समझा और वे भी र्सिर्कट हाउस की ओर चले गये।  विरोध करने का कारण बताया जा रहा है कि एक गुट के कांग्रेसीयो को जिलाध्यक्ष द्वारा लगाये पोस्टर पर डां चरण दास मंहत को फोटो नही लगे होने की जानकारी हुई तो वे जिलाध्यक्ष चैलेश्वर चन्द्राकर पर भड़क गये हैं. खुले रोड पर ही उनका विरोध करना शुरू कर दिया। डां चरण दास मंहत  गुट के कांग्रेसी अपने नेता का फोटो फोस्टर मे न देख जिलाध्यक्ष का साजिश बताया और आरोप लगाया की जानबुझ कर पोस्टर मे फोटो नही लगाया गया है। इस तरह जिला कांग्रेस कमेटी की गुटबाजी के कारण धरना प्रदर्शन को कार्यक्रम अधुरे रह गया है पूरे कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं जिला संगठन प्रभारी अर्जुन तिवारी एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ.् चैलेश्वर चंद्राकर की खुब किरकीरी हुई।

सोशल डिसटेंस का भी माखौल उड़ाया कांग्रेसीयों ने….

कोविड़ 19 महामारी से बचने के लिये केन्द्र व राज्य सरकार रोज गाइडलाइन जारी कर रहा है। कैसे इस बीमारी से बचे। लेकिन आज कांग्रेसीयो ने भी इसका माखौल उड़ाया। धरना प्रदर्शन के दौरान न तो मुह में मास्क लगाये थे, और ही सोशल डिसटेंस का पालन किये। किनती के कांग्रेसीयो ने ही मास्क लगा रखा था। सैकडो की संख्या में कंाग्रेसी कचहरी चैक पर एकजुट होकर प्रदर्शन करते रहे ।