तिल और ज्योतिष का संबंध.. जानिए, क्या कहते हैं चेहरे- शरीर के तिल

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार तिल और भाग्य दोनों साथ-साथ चलते हैं और ये दोनों व्यक्ति के स्वभाव, कर्म और उनके जीवन में होने वाली अच्छी और बुरी घटनाओं की ओर संकेत करते हैं। इसलिए शरीर के विभिन्न अंगों पर तिल का कोई न कोई अर्थ अवश्य होता है। तिल हमारे भविष्य के कई रहस्यों को उजागर करते हैं। शरीर पर कोई तिल छोटा तो कोई बड़ा होता है ये काले और लाल रंग के होते हैं। ऐसा भी कहा जाता है कि तिल हमारे पुनर्जन्म के बारे में बताते हैं। हालांकि इनको लेकर लोगों के भिन्न-भिन्न मत हैं।

तिल और ज्योतिष का संबंध
〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️
समुद्र शास्त्र वैदिक ज्योतिष की एक शाखा है जिसमें तिल के महत्व, शक्तियों और उनके प्रभावों के बारे में बताया गया है। इनका असर मनुष्य के व्यक्तित्व, स्वभाव और उनके भाग्योदय पर पड़ता है। हमारे शरीर में ये विभिन्न आकार और रंग रूप के होते हैं। समुद्र विज्ञान में शरीर के अलग-अलग हिस्सों में तिल के सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव को बताया गया है। कहा जाता है कि शरीर पर तिल ग्रह की स्थिति और उनके प्रभावों को दर्शाता है।

शरीर में कुल कितने होने चाहिए तिल को लेकर बहुत सारे लोग बाते करते रहते हैं वहीं कहा जाता है कि गोरे चेहरे पर काला तिल होने से लोगों की बुरी नजर नहीं लगती। लेकिन किसी भी व्यक्ति के शरीर पर बारह से ज्यादा तिल होना अच्छा नहीं माना जाता। वहीं बारह से कम तिल का होना शुभ फलदाई होता है।

तिल का प्रभाव आकार के अनुसार
〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️
छोटा👉 कम प्रभावशाली

बड़ा👉 अति शुभ

लंबा👉 शुभ

रूप के अनुसार
〰️〰️〰️〰️〰️
त्रिकोणीय〰️ मिश्रित परिणाम

टेढ़ा-मेढ़ा〰️ शुभ परिणामकारी

गोल〰️ शुभ

वर्गाकार〰️ अंत तक अप्रत्याशित फल परंतु मुश्किलों को दूर करने वाला

रंग के अनुसार
〰️〰️〰️〰️〰️
यदि तिल लाल, हल्का भूरा, चंदन अथवा हरा पन्ना जैसे रंग का हो तो वह भाग्यशाली होता है।

काले रंग के तिल को अच्छा नहीं माना जाता है। इसका मतलब होता है कि जीवन में बाधाएं आएँगी।

शरीर के विभिन्न भागों पर तिल का फल
〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️
माथे पर तिल
〰️〰️〰️〰️
माथे पर तिल माथे के बीच वाले भाग में तिल निर्मल प्यार की निशानी है। माथे के दाहिने तरफ का तिल किसी विषय में निपुणता, पर बायीं तरफ का तिल फिजूलखर्ची का भी प्रतीक होता है। माथे के तिल के संबंध में एक मत यह भी है कि दायीं ओर का तिल धन वृद्धिकारक और बायीं तरफ का तिल घोर निराशापूर्ण जीवन का सूचक होता है।

यदि किसी व्यक्ति के माथे के बीच में तिल हो तो वह व्यक्ति शांत, बुद्धिमान, परिश्रमी और दिल का साफ होता है।

यदि किसी के माथे में दाहिनी ओर तिल हो तो वह व्यक्ति धनवान होता है।

यदि माथे में बायीं ओर तिल हो तो वह व्यक्ति स्वार्थी होता है।

भौंह पर तिल
〰️〰️〰️〰️
भौंह के बीच में तिल होने का मतलब होता है कि उस व्यक्ति के अंदर एक लीडर की विशेषता होगी। उसके जीवन में आर्थिक संपन्नता आएगी।

यदि भौंह पर बायीं ओर तिल हो तो व्यक्ति डरपोक होगा और बिज़नेस और नौकरी में उसे कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा।

वहीं भौंह पर दाहिनी ओर तिल है तो व्यक्ति को वैवाहिक जीवन में ख़ुशियाँ एवं संतान सुख प्राप्त होगा।

जिसकी दोनों भौहों पर तिल हो वह अकसर यात्रा करता रहता है। दाहिनी भौंह पर तिल सुखमय और बायीं भौंह पर तिल दुखमय दांपत्य जीवन का संकेत देता है।

आँखों पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
यदि किसी की दाहिनी आँख पर तिल का निशान हो तो वह व्यक्ति ईमानदार, मेहनती और विश्वास करने योग्य होता है।

बायीं आँख पर तिल का होना व्यक्ति के अंहकार और आशावादी सोच को दर्शाता है।

आंख की पुतली पर तिल दायीं पुतली पर तिल हो तो व्यक्ति के विचार उच्च होते हैं। बायीं पुतली पर तिल वालों के विचार बुरे होते हैं। पुतली पर तिल वाले लोग आम तौर पर भावुक होते हैं।

पलकों पर तिल आंख की पलकों पर तिल हो तो व्यक्ति संवेदनशील होता है। दायीं पलक पर तिल वाले बायीं वालों की अपेक्षा ज़्यादा संवेदनशील होते हैं।

नाक पर तिल
〰️〰️〰️〰️
ऐसा माना जाता है कि जिस व्यक्ति की नाक पर (ठीक बीच पर) तिल होता है तो वह क्रोधी और बिना सोचे-समझे निर्णय लेने वाला होता है।

यदि किसी की नाक की दाहिनी तरफ तिल हो तो वह व्यक्ति कम मेहनत के बल पर अधिक धन पाने में कामयाब होता है।

यदि नाक की बायीं ओर तिल हो तो व्यक्ति को सफलता पाने के लिए संघर्ष करना पड़ता है।

यदि नाक के नीचे तिल हो तो व्यक्ति कामुक और विपरीत लिंग को आकर्षित करने वाला होगा।

व्यक्ति प्रतिभा संपन्न और सुखी होता है। महिलाओं की नाक पर तिल उनके सौभाग्यशाली होने का सूचक है।

गाल पर तिल
〰️〰️〰️〰️
गाल पर तिल गाल पर लाल तिल शुभ फल देता है। बाएं गाल पर काला तिल व्यक्ति को निर्धन, किंतु दाएं गाल पर काला तिल धनी बनाता है।

जिसके बायें गाल पर तिल हो तो वह व्यक्ति अल्पभाषी, अधिक गुस्से वाला और धन ख़र्च करने वाला होता है।

यदि किसी के दायें गाल पर तिल हो तो व्यक्ति का स्वभाव आक्रामक होता है। इसके अलावा वह तर्कवादी और धन कमाने में अग्रणी होता है।

कान पर तिल
〰️〰️〰️〰️
यदि किसी के कान पर तिल हो तो उसका जीवन भौतिक सुखों से युक्त होता है।

यदि कान के ठीक ऊपर तिल हो तो व्यक्ति बुद्धिमान होता है।

कान पर तिल व्यक्ति की लम्बी आयू होने का भी संकेत देता है।

होंठ पर तिल
〰️〰️〰️〰️
यदि किसी व्यक्ति के होंठ पर तिल होता है तो उन्हें अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए, क्योंकि उन्हें मोटापा और स्वास्थ्य संबंधी समस्याएँ हो सकती हैं।

यदि आपके नीचे वाले होंठ पर तिल है तो आप फूडी नेचर के होंगे। इसके अलावा नाटक में आपकी विशेष रुचि होगी।
होंठ पर तिल वाले व्यक्ति बहुत प्रेमी हृदय के होते हैं। यदि तिल होंठ के नीचे हो तो गरीबी छाई रहती है।

मुंह पर तिल मुखमंडल के आसपास का तिल स्त्री तथा पुरुष दोनों के सुखी संपन्न एवं सज्जन होने के सूचक होते हैं। मुंह पर तिल व्यक्ति को भाग्य का धनी बनाता है। उसका जीवनसाथी बहुत अच्छा होता है।

जीभ पर तिल
〰️〰️〰️〰️
यदि किसी शख्स की जीभ पर तिल है तो उसे स्वास्थ्य, शिक्षा एवं स्पीच संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

यदि किसी व्यक्ति की जीभ की नोक पर तिल हो तो वह व्यक्ति बहुत कूटनीतिज्ञ होता है। वह परिस्थितियों को काबू करने में सक्षम होता है। वह व्यक्ति अधिक फूडी भी होता है।

ठोड़ी पर तिल
〰️〰️〰️〰️
ठोड़ी पर तिल जिस स्त्री की ठोड़ी पर तिल होता है, उसमें मिलनसारिता की कमी होती है और वह थोड़ी अक्खड़ होती हैं।

यदि किसी की ठोड़ी के बीच पर तिल होता है तो उस व्यक्ति को यात्रा करना अच्छा लगता है। उसे नई-नई जगहों पर जाना पसंद होता है।

यदि किसी की ठोड़ी के दाहिने हिस्से में तिल हो तो वह व्यक्ति तर्कवादी और कूटनीतिक विचारों वाला होता है।

वहीं जिस व्यक्ति की ठोड़ी पर बायीं ओर तिल हो तो वह व्यक्ति ईमानदार और स्पष्टवादी होता है।

गर्दन पर तिल
〰️〰️〰️〰️
गले पर तिल वाला वयक्ति आरामतलब होता है। गले पर सामने की ओर तिल हो तो जातक के घर मित्रों का जमावड़ा लगा रहता है। मित्र सच्चे होते हैं। गले के पृष्ठ भाग पर तिल होने पर जातक कर्मठ होता है।

यदि किसी व्यक्ति की गर्दन पर ठीक सामने तिल हो तो वह भाग्यशाली और कला से निपुण होता है।

वहीं गर्दन के पीछे वाले भाग पर तिल का होना व्यक्ति के क्रोधी को स्वभाव को दर्शाता है।

कंधे पर तिल
〰️〰️〰️〰️
कंधों पर तिल दाएं कंधे पर तिल का होना दृढ़ता तथा बाएं कंधे पर तिल का होना तुनकमिजाजी का सूचक होता है।

यदि किसी व्यक्ति के बायें कंधे पर तिल का निशान हो तो वह व्यक्ति ज़िद्दी स्वभाव का होता है।

यदि किसी व्यक्ति के दायें कंधे पर तिल का निशान हो तो वह साहसी और बुद्धिमान होता है।

भुजा पर तिल
〰️〰️〰️〰️
यदि किसी व्यक्ति की दाहिनी भुजा में तिल हो तो वह बुद्धिमान और चालाक होता है।

बायीं भुजा में तिल का होना व्यक्ति की भौतिक सुखों की कामना को दर्शाता है लेकिन वास्तव में वह सामान्य जीवन जीता है।

बांह पर तिल
〰️〰️〰️〰️
बांह पर तिल दाहिनी बांह पर तिल वाला व्यक्ति प्रतिष्ठित व बुद्धिमान होता है। लोग उसका आदर करते हैं। बायीं बांह पर तिल हो तो व्यक्ति झगड़ालू होता है। उसका हमेशा निरादर होता है। उसकी बुद्धि मैं बुरे विचार भरे होते है।

हाथों पर तिल
〰️〰️〰️〰️
हाथों पर तिल जिसके हाथों पर तिल होते हैं वह चालाक होता है। दायीं हथेली पर तिल हो तो बलवान और दायीं हथेली के पीछे भाग में हो तो धनवान होता है। बायीं हथेली पर तिल हो तो वह खर्चीला तथा बायीं हथेली के पीछे भाग पर तिल हो तो कंजूस होता है।

कोहनी पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
यदि किसी व्यक्ति की कोहनी पर तिल हो तो उसका मतलब होता है कि वह व्यक्ति बेचैन, कला में निपुण, धनी और ट्रैवल लवर होगा।

कलाई पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
यदि किसी व्यक्ति की कलाई पर तिल होता है तो वह व्यक्ति कलात्मक होता है। उसके मन में नए-नए विचार आते हैं। ऐसे लोग अच्छे पेंटर और लेखक होते हैं।

हथेली पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
यदि किसी की हथेली पर तिल का निशान हो तो उस व्यक्ति को कठिनाई का सामना करना पड़ता है।

उंगली पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
ऐसा कहा जाता है कि जिसकी उंगलियों पर तिल का निशान होता है। वह व्यक्ति विश्वासपात्र नहीं होता है। उसे चीज़ों को बढ़ा चढाकर कहने की आदत होती है।

कनिष्ठा पर तिल👉 कनिष्ठा (छोटी उंगली) पर तिल हो तो वह व्यक्ति संपत्तिवान होता है, किंतु उसका जीवन दुखमय होता है।

अनामिका पर तिल👉 जिसकी अनामिका (तीसरी उंगली) पर तिल हो तो वह ज्ञानी, यशस्वी, धनी और पराक्रमी होता है।

मध्यमा पर तिल👉 मध्यमा (बीच की उंगली) पर तिल उत्तम फलदायी होता है। व्यक्ति सुखी होता है। उसका जीवन शांतिपूर्ण होता है।

तर्जनी पर तिल👉 जिसकी तर्जनी (पहली उँगली) पर तिल हो, वह विद्यावान, गुणवान और धनवान किंतु शत्रुओं से पीड़ित होता है।

अंगूठे पर तिल👉 अंगूठे पर तिल हो तो व्यक्ति कार्यकुशल, व्यवहार कुशल तथा न्यायप्रिय होता है।

पसलियों पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️〰️
दाहिनी पसली पर तिल का निशान यह बताता है कि व्यक्ति झूठ बोलने में माहिर और कई चीज़ों से भयभीत होता है।

वहीं बायीं पसली पर तिल व्यक्ति के सामान्य जीवन को दर्शाता है।

पीठ पर तिल
〰️〰️〰️〰️
पीठ पर रीढ़ की हड्डी के आसपास का तिल का होना सक्सेस, फेम और लीडरशिप को बताता है।

यदि किसी व्यक्ति के शोल्डर ब्लेड्स के नीचे तिल हो तो उस व्यक्ति को जीवन में संघर्ष करना पड़ेगा।

यदि किसी व्यक्ति के शोल्डर ब्लेड्स के ऊपर तिल का निशान हो तो वह व्यक्ति साहस के साथ चुनौतियों का सामना करता है।

सीने पर तिल
〰️〰️〰️〰️
छाती पर तिल छाती पर दाहिनी ओर तिल का होना शुभ होता है। ऐसी स्त्री पूर्ण प्यारी होती है। पुरुष भाग्यशाली होते हैं। छाती पर बायीं ओर तिल रहने से पत्नी पक्ष की ओर से असहयोग की संभावना बनी रहती है। छाती के मध्य का तिल सुखी जीवन दर्शाता है। यदि किसी स्त्री के हृदय पर तिल हो तो वह सौभाग्यवती होती है।

जिस व्यक्ति के सीने पर तिल का निशान होता है उसकी कामुक प्रवृत्ति तीक्ष्ण होती है।

जिन महिलाओं के दाहिने सीने में तिल का निशान होता है तो उनके अंदर ड्रग्स और शराब के अलावा अन्य प्रकार का नशा करने की प्रवृत्ति पायी जाती है। वहीं यदि पुरुष के सीने में दाहिनी ओर तिल हो तो उसे आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।

जिन पुरुषों के सीने में बायीं ओर तिल का निशान होता है तो वे चतुर स्वभाव के होते हैं लेकिन दोस्तों और रिश्तेदारों से उनके संबंध अच्छे नहीं रहते हैं। वहीं महिलाओं के बायें सीने में तिल हो तो वे शांत स्वभाव की होती हैं और परिवार, रिश्तेदारों और सहकर्मियों से उनके अच्छे संबंध होते हैं।

नाभि पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
जिन महिलाओं की नाभि में अथवा इसके अासपास तिल का निशान होता है तो ऐसी महिलाओं का वैवाहिक जीवन सुखी होता है।

किसी पुरुष के नाभि पर बायीं ओर तिल का निशान उसके समृद्ध जीवन को दर्शाता है। उसकी संतान को भी प्रसिद्धि मिलती है।

पेट पर तिल
〰️〰️〰️〰️
पेट पर तिल का निशान किसी व्यक्ति को हमेशा जोशीला बनाए रखता है।

अगर किसी पुरुष के उदर पर दाहिनी ओर तिल हो वह उसके मजबूत आर्थिक पृष्ठभूमि को दिखाता है। वहीं महिलाओं के लिए यह कमज़ोरी को दर्शाता है।

यदि पेट पर दाहिनी ओर तिल हो तो आमदनी की सुगमता को दर्शाता है।

व्यक्ति चटोरा होता है। ऐसा व्यक्ति भोजन का शौकीन व मिष्ठान्न प्रेमी होता है। उसे दूसरों को खिलाने की इच्छा कम रहती है।

नितंब पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
जिन लोगों के दोनों नितंब पर तिल हो तो ऐसे व्यक्ति ख़ुशमिजाज़, प्रिय और विश्वास योग्य होते हैं।

जिनके दायीं नितंब पर तिल हो तो ऐसे व्यक्ति क्रिएटिव और बुद्धिमान होते हैं।

जिन लोगों के बायें नितंब पर तिल होता है तो ऐसे लोग सामान्य आमदनी के बावजूद अपने जीवन से संतुष्ट दिखाई देते हैं।

कमर पर तिल
〰️〰️〰️〰️
कमर पर तिल यदि किसी व्यक्ति की कमर पर तिल होता है तो उस व्यक्ति की जिंदगी सदा परेशानियों से घिरी रहती है।

गुप्तांग पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
जिन लोगों के गुप्तांग पर तिल का निशान होता है ऐसे लोग खुले विचार वाले और ईमानदार होते हैं। इसके अलावा ऐसे लोग अधिक रोमांटिक होते हैं और उनका वैवाहिक जीवन सुखी रहता है। भौतिक सुखों के अभाव के बावजूद भी ये लोग संतुष्ट रहते हैं।

जांघ पर तिल
〰️〰️〰️〰️
जिन लोगों की दायीं जंघा पर दिल का निशान हो तो ऐसे लोग मध्यम स्वभावी और निडर होते हैं।

बायीं जांघ पर तिल का निशान किसी व्यक्ति की कलात्मक क्षमता को दर्शाता है लेकिन ऐसे व्यक्ति आलसी और अधिक सामाजिक नहीं होते हैं।

घुटने पर तिल
〰️〰️〰️〰️
घुटनों पर तिल दाहिने घुटने पर तिल होने से गृहस्थ जीवन सुखमय और बायें पर होने से दांपत्य जीवन दुखमय होता है। यदि किसी व्यक्ति के बायें घुटने पर तिल का निशान हो तो ऐसे व्यक्ति साहसी और रिस्क लेने वाले होते हैं। ऐसे लोग एक राजा की तरह अपना जीवन व्यतीत करते हैं।

जिन लोगों के दायें घुटने पर तिल होता है ऐसे लोगों का प्रेमजीवन कामयाब होता है। ऐसे लोग सभी से मित्र जैसा व्यवहार करते हैं।

पिण्डली पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
दायीं पिंडली पर तिल का होना अच्छा माना जाता है। ऐसे लोग कामयाब और समृद्धिशाली होते हैं। ऐसे व्यक्ति राजनीति में अधिक सक्रिय होते हैं और महिलाओं के द्वारा इन्हें अधिक सहयोग प्राप्त होता है।

बायीं पिण्डली पर तिल वाले व्यक्ति मेहनती होते हैं। उन्हें काम के सिलसिले में यात्रा करनी पड़ती है और उनके मित्रों की संख्या अधिक होती है।

टाँग पर तिल
〰️〰️〰️〰️
जिन लोगों के टांग पर तिल होता है ऐसे व्यक्ति बिना सोचे समझें कार्य करते हैं। वे परिणाम की चिंता नहीं करते हैं। इसलिए ऐसे लोग अक्सर कंट्रोवर्सी में घिरे रहते हैं।

टखने पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️
यदि किसी के दायें टखने पर तिल होता है तो ऐसे व्यक्ति संभावित अनुमान लगाने वाले और अधिक बातूनी होते हैं। जबकि बायें टखने पर तिल के निशान वाले लोग अधिक धार्मिक प्रवृत्ति के होते हैं।

पैर पर तिल
〰️〰️〰️〰️
पैरों पर तिल पैरों पर तिल हो तो जीवन में भटकाव रहता है। ऐसा व्यक्ति यात्राओं के शौकीन होते है।

यदि किसी व्यक्ति के दायें पाँव पर तिल का निशान हो तो ऐसे लोगों को अच्छा जीवनसाथी प्राप्त होता है और उनका पारिवारिक जीवन संतोषजनक रहता है।

अगर बायें पैर पर तिल हो तो व्यक्ति को आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है और जीवनसाथी से भी उसके मतभेद रहते हैं।

यदि तलवे पर तिल हो तो स्वास्थ्य संबंधी परेशानी, दुश्मनों से चुनौती आदि का सामना करना पड़ता है।

पैर की उंगलियों पर तिल
〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️
यदि किसी के पैर की उंगलियों पर तिल हो तो ऐसे व्यक्तियों का वैवाहिक जीवन सुखी नहीं होता है।
〰️〰️🌸〰️〰️🌸〰️〰️🌸
ज्योतिर्विद पं०शशिकान्त पाण्डेय🙏

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें-

Facebook, TwitterWhatsAppTelegramGoogle News