Exclusive : बहुचर्चित कांग्रेस विधायक फिर चर्चा में… भाजपा नेता की जमीन नही नापी.. तो सोशल मीडिया में कर दिया वायरल

बलरामपुर..(कृष्णमोहन कुमार).. बलरामपुर-रामानुजगंज विधायक बृहस्पत सिंह के एक फेसबुक पोस्ट से बवाल मच गया है। विधायक बृहस्पत ने रामानुजगंज एसडीएम अभिषेक गुप्ता और तहसीलदार विवेकानंद चंद्रा को लापता बताकर सूचना देने वाले को बाकायदा 1100 ईनाम देने की बात लिखी है। जो शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है।

विधायक बृहस्पत सिंह ने फ़ोटो सहित पोस्ट कर लिखा है-

रामानुजगंज एसडीएम श्री अभिषेक गुप्ता एवं तहसीलदार विवेकानंद चंद्रा दोनो अपने अपने निवास से आज दिनांक 21 जनवरी 2021, गुरूवार प्रात: 9 बजे से लापता हैं। इन दोनों की जानकारी न तो इनके परिजनों को है नही किसी अधीनस्थ के पास कोई सूचना है. साथ ही साथ इन दोनो का मोबाइल भी बंद आ रहा है। इन दोनों अधिकारियों के संबंध में किसी को कोई जानकारी मिले तो वे तत्काल रामानुजगंज थाना को सूचित करेंगे. सूचना देने वाले व्यक्ति को रु. 1,100 नगद ईनाम प्रदान किया जावेगा.

इस संबंध में रामानुजगंज के प्रभारी तहसीलदार (प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर) विवेक चंद्रा ने बताया कि रामानुजगंज नगर निवासी अरुण कुमार केशरी द्वारा शासकीय भूमि पर अवैध रूप से दुकान को पीछे बढ़ाकर अतिक्रमण से किया गया है। उक्त भूमि शासकीय कार्य के प्रयोजन के लिए प्रस्तावित है। अनावेदक को 21 तारीख़ को कब्ज़ा हटाकर न्यायालय में सूचना देना था। लेकिन विधायक द्वारा आज ही अतिक्रमण हटाने को कहा जा रहा था। जो संभव नहीं था।

जिन दो अधिकारियों के गायब होने की सूचना विधायक ने वायरल की है। उनमें से एक लापता अधिकारी ने बताया की नए तहसील का रामचंद्रपुर में साइट देखने गए थे। इस दौरान उनके साथ एसडीएम अभिषेक गुप्ता और अन्य विभागीय अमला मौजूद था। लेकिन वहां नेटवर्क नहीं होने की वजह से संपर्क नहीं हो पा रहा था।