Home Breaking News CG में फ्लिपकार्ट के नाम से चल रही धोखाधड़ी: आपने किया हैं...

CG में फ्लिपकार्ट के नाम से चल रही धोखाधड़ी: आपने किया हैं Flipkart से ऑर्डर तो जरूर पढ़ें, अब तक हो चुका 45 लाख का फ्रॉड

दुर्ग. फ्लिपकार्ड कंपनी के नाम से धोखाधड़ी का मामला सामने आया हैं। 5 आरोपियों को दुर्ग पुलिस ने गिरफ्तार किया हैं। बताया जा रहा हैं कि, Flipkart कंपनी के नाम से 45 लाख का चूना लगाया था। फर्जी एकाउंट के जरिए फर्जी ढंग से 120 महंगे मोबाइल और लैपटॉप ऑर्डर किये थे। वेयर हाउस का डिलीवरी बॉय बन कर कर धोखाधड़ी कर रहे थे। फेक ऑर्डर कर फेक डिलीवरी भी करते थे। पूछताछ के बाद मामले में जल्द और गिरफ्तारियां जल्द हो सकती हैं।

आईपीएस प्रभात कुमार के अनुसार, सभी ने मिलकर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के करीब 50 से ज्याद अकाउंट से फिल्पकार्ट को 120 मोबाइल और महंगे लैपटॉप का ऑर्डर दिया। सभी ऑर्डर कैश ऑन डिलीवरी मोड में दिए गए। इस पूरे गबन के सरगना अमर मंडल ने अपने दोस्त राहुल के आधार कार्ड का इस्तेमाल कर उसे वेयर हाउस का डिलीवरी बॉय बना दिया। जबकि, राहुल को इस बात का पता भी नहीं चला। जब सारा सामान आ गया तो पूरा सामान राहुल के नाम से डिलीवरी के लिए निकलना दिखाया और उसे लेकर 21 मई की रात को राजनांदगांव में मोनिका के घर ले गए। यहां मोबाइल से स्कैन कर पूरा सामान डिलीवरी होना दिखा दिया गया। पुलिस ने मोनिका के घर से दो लैपटॉप और तीन मोबाइल भी जब्त किए हैं।

नेहरू नगर का अंकित नियमित ग्राहक

आईपीएस प्रभात कुमार के अनुसार, भिलाई के नेहरू नगर का अंकित नाम का व्यक्ति इस तरह कंपनी को चूना लगाकर हासिल गए गए इलेक्ट्रानिक आइटम का रेगुलर ग्राहक था। इस बार उसने करीब 8 मोबाइल खरीदे थे। इसके अलावा इन लोगों ने तिल्दा में रह रहे एक आरोपी लोकेश के फूका के घर 80 मोबाइल ठिकाने लगाए। आरोपियों में से करीब 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया चुका हैं। बाकी की तलाश जारी हैं।

45 लाख में से 38 लाख का सामान बरामद

आईपीएस प्रभात कुमार ने बताया कि, आरोपियों ने करीब 45 लाख रुपये का सामान कंपनी से उड़ाया था। इसमें से करीब 38 लाख के सामान की बरामदगी हो चुकी हैं। शेष सामान भी बरामद करने का प्रयास किया जा रहा हैं।

error: Content is protected !!