CG Breaking: हाथियों का आतंक जारी, जान बचाने भाग रही गर्भवती महिला की मौत

मुंगेली. अचानकमार टाइगर रिजर्व के जंगलों में इन दिनों हांथियों के झुंड का आतंक जारी है। वहीं यह घटना एटीआर के वनग्राम मंजूरहा के आश्रित गांव बिसौनी की है। जहां कल रात करीब तीन बजे हांथियों के तोड़फोड़ से गांव वालों के चिल्लाने की आवाज से कच्ची मकान में सो रहे बैगा दंपति उठ गए। बाहर हांथी को देखने के बाद पति-पत्नी हाथी के दहशत से जान बचाने भाग रहे थे। इस दौरान गर्भवती महिला की साड़ी पैर में फस गया, और उक्त महिला गिरने से घायल हो गई। जिसे आज सुबह एंबुलेंस की मदद से लोरमी के सामुदायिक अस्पताल इलाज के लिए लाया जा रहा था कि अचानक बिजराकछार पहुंचते ही महिला ने दम तोड़ दिया।

बताया जा रहा है कि मृतिका के गर्भ में 3 माह का बच्चा भी था। इसके सांथ ही अन्य दो घायलों को लोरमी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां प्राथमिक उपचार जारी है। वहीं इसको लेकर गांव के ही बजरु बैगा ने बताया की दस से अधिक की संख्या में हाथियों का दल गांव में आया है। जिसकी सूचना उन्हें नहीं थी कि अचानक अन्य लोगों के चिल्लाने की आवाज सुनकर गांव में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। साथ ही एक महिला की भागने से घायल हो गई थी, जिसकी मौत हो गई।