असर फटाफट : सरहर गौठान में मवेशियों की मौत मामले में जांच टीम पहुंची गांव… अधिकारियों ने कहा नहीं हुई एक भी मवेशी की मौत… कांग्रेस जिलाध्यक्ष का वीडियो फर्जी… अपने निजी स्वार्थ के लिए लगा रहे आरोप..

जांजगीर चांपा। जिले के सरहर गांव के गौठान में 20 मवेशियो की मौत का विडियो कांग्रेस के जिला अध्यक्ष चैलेश्वर चन्द्राकर द्वारा जारी किए जाने के बाद अधिकारियो में हडकंप मच गया है। अधिकारी मवेशियों की मौत के मामले में गौठान समिति की बचाव में उतर आए है। जिला पंचायत सीईओ तीर्थ राज अग्रवाल ने मामले की शिकायत के बाद बम्हनीडीह जनपद के सीईओ के माध्यम से मामले में जांच कराई. मौके पर पहुंचकर अधिकारीयों ने मामले में जांच कर गौठान समिति से पुछताछ कर अपने जांच रिपोर्ट में सरहर गौठान में एक भी मवेशी की मौत नही होने की जानकारी देते हुए गौठान समिति को क्लीन चीट दे दिया है। वही उन्होने ने कहा है कि जिलाध्यक्ष द्वारा जारी विडियो फर्जी है। वे आपसी झगड़ा के कारण इस प्रकार का काम कर रहे है।

जबकि कांग्रेस के जिला अध्यक्ष चैलेश्वर चंद्राकर ने जो विडियो वायरल किया है उसमें मृत मवेशियों का विडियो बनाया है और जिस अधिकारी को गौठान समिति के समिति को संरक्षण देने का आरोप लगा रहे है एंव उन्ही के माध्यम से जांच कराना अधिकारियों के कार्यप्रणाली पर सवाल उठने लगा है। वही इस मामले में भाजयुमों के जिला महामंत्री जितेंद्र देवांगन ने सत्ता संगठन और प्रशासन के बीच तालमेल नही होने का आरोप लगाया है। उन्होने कहा कि जिला सत्ता धारी दल के जिला अध्यक्ष के बनाए विडियो को अधिकारी नाकार कर गलत का साथ दे रहे है और मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट को चारागाह बना कर खुद का पेट भरने में लगे है। उन्होने इस मामले में उच्च स्तरीय जांच कर दोषियों के खिलाफ कारवाई की मांग की है।