Chhattisgarh News: मोहन मरकाम का चांपा जन जागरण पदयात्रा रहा फ्लॉप शो… नहीं जूटे कार्यकर्ता.. कांग्रेस पदाधिकारियों को मिली फटकार… पांच मिनट कार्यक्रम को संबोधित कर चले गए..

जांजगीर-चांपा। चाम्पा नगर पहुंचे पीसीसी चीफ मोहन मरकाम का जन जागरण पदयात्रा फ्लॉप शो बन कर रह गया। यहां अपेक्षा के अनुरूप कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं जुटे। वही कम संख्या में ही कार्यक्रम को संबोधित करना पड़ा। सभा स्थल पर पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता ही मौजूद रहे।

पीसीसी चीफ मोहन मरकाम कार्यक्रम में पदाधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि गुटबाजी छोड़ कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने के लिए कार्यकर्ता को निस्वार्थ काम करना होगा। तभी प्रदेश में कांग्रेस पार्टी मजबूत होगी। आगे कहा की कोई भी नेता मंच पर बैठने से नेता नहीं बनता कड़ी मेहनत करते हुए जनता के विश्वास पर खरा उतरना पड़ता है। कार्यक्रम को पांच मिनट संबोधित कर चले गए।

पीसीसी चीफ अपने दो दिवसीय जन जागरण पदयात्रा पर जांजगीर-चांपा जिला पहुंचे हुए थे जहां उन्होंने पामगढ़, अकलतरा, जैजैपुर, जांजगीर चांपा विधानसभा में पदयात्रा कर कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर संगठन को मजबूत करने को कहा। मोहन मरकाम जांजगीर-चांपा जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों का फीडबैक लेकर रायपुर के लिए रवाना हो गए। पदयात्रा के दौरान पीसीसी चीफ पदाधिकारियों को लताड़ा और आगामी दिनों के लिए अपने व्यवहार में सुधार लाने की नसीहत दी।

जिलाध्यक्ष से लेकर छाया सांसद एवं छाया विधायकों का खूब परेड लिया। वही कहा कि आने वाले समय के लिए चेत जाएं नहीं तो संगठन में उनकी जगह कोई और हो सकता है। पार्टी के निष्क्रिय कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों को साफ लफ्जों में कह दिया कि काम करना है तो गुटबाजी छोड़ काम करना होगा। नहीं तो वह अपना पद छोड़ सकते हैं। पीसीसी चीफ का तेवर देख कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी भी अचंभित रहे। पामगढ़, अकलतरा एवं जांजगीर चांपा विधानसभा के छाया विधायकों को साफ तौर पर कह दिया गया है कि अपने क्षेत्र में सक्रियता से जनता से जुड़कर कार्य करे।