फसलों को रौंद रहा 11 हाथियों का दल, एक ग्रामीण के मकान को किया तहस-नहस

उदयपुर (फटाफट न्यूज) | क्रांति रावत

Elephant Terror in Surguja: हाथियों ने मंगलवार की रात को सायर जंगल से नीचे की बस्ती मुड़ापारा में उदराज पिता भानुप्रसाद मांझी के घर को तोड़ा है तथा लगभग आधा दर्जन किसानों के फसलों को रौंद डाला है। दरअसल, 11 हाथियों का दल बीते 5 दिनों से वन परिक्षेत्र उदयपुर के जंगलों में विचरण कर रहा है। प्रेमनगर की ओर से आए इन 11 हाथियों के दलों ने अभी तक कुल एक घर को नुकसान पहुंचाया है। मुड़ापारा में किसानों की कुछ धान एवम् मक्का की फसल को नुकसान पहुंचाया है।

वन अमला लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने का कार्य लगातार कर रहा है। डीएफओ पंकज कमल के नेतृत्व में टीम गठित कर एसडीओ बिजेंद्र सिंह रेंजर सपना मुखर्जी तथा वन रक्षकों की अलग अलग पालियों में ड्यूटी लगा कर हाथियों की निगरानी लगातार की जा रही है। गांव में मुनादी भी कराई जा रही है। फसल नुकसान का जायजा लगातार लिया जा रहा है तथा मुआवजा के प्रकरण भी बनाए जा रहे हैं। ग्रामीणों को हाथियों से दूर रहने की सलाह गजराज वाहन के माध्यम से लगातार की जा रही है।

मुड़ापारा के लगभग 50 लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित पक्के के मकान में की रात को रखा गया था। 1 दर्जन से अधिक वन विभाग के कर्मचारी व हाथी मित्र दल के लोग ग्रामीणों एवं हाथियों की देखरेख में लगे हुए हैं। कक्ष 2043 में हाथियों का दल अभी भी डेरा जमाए हुए है। सुखरी भंडार, बिछलघाटी, मुड़ापारा में हाथी का दल विचरण करते रहता है, सावधानी बतौर वन अमला द्वारा बीच-बीच में उदयपुर से केदमा मार्ग को बंद भी किया जाता है।