चाम्पा से लापता हुए तीनो बच्चे बिलासपुर रेल्वे स्टेशन कैसे पहुचे पुलिस कर रही जांच,,,,, बिलासपुर चाइल्ड लाइन में सुरक्षित है बच्चे,,चाम्पा पुलिस के साथ परिजन बिलासपुर रवाना,,,

जांजगीर चाम्पा। चाम्पा के भैसा बाजार वार्ड 2 से गुरुवार को  एक ही घर से तीन बच्चे स्कूल जाने घर से निकले थे पर वापस घर नही लौटे। जब काफी समय के बाद बच्चे घर नही लौटे तो परिजनों ने स्कूल, आसपास खोजबीन शुरु कर दी, लेकिन कही पता नही चला, अंत मे परिजनों ने थाने में बच्चों की लापता होने की सूचना दी। घटना से पूरे शहर में  बच्चो के अचानक लापता होने की खबर आग की तरह फैल गई। लोग दहशत में आ गए सभी अपने अपने घरों में अपने बच्चों को नजर के सामने देख रेख रखना शुरू कर दिया। पुलिस भी घटना की सूचना के बाद अलर्ट हो गई, और शहर के चारो ओर बच्चों की खोजबीन शुरू कर दी। बाद में राजबंधा तालाब के पास बच्चों का स्कूल ड्रेस और बैग मिली। पुलिस को बच्चों का कपड़ा और बैग बरामत होने के बाद शंका होने लगी कि कही तालाब में नहाते बच्चे डुब न गए हो। शंका पर गोताखोर की मदद से तालाब मेंखोजबीन की गई लेकिन पता नही चल पाया। बच्चों के नही मिलने से इधर परिजनो का भी बुरा हाल था। पुलिस के लिए भी चुनौती बन गई। पुलिस ने और आगे जांच शुरू की शहर के सभी रेल्वे स्टेशनों, बस स्टेशन के अलावा इधर जाने वाले रोड के किनारे दुकानों में लगे सीसीटीवी फुटेज देखना शुरू कर दी। इसी सीसीटीवी फुटेज में पुलिस को एक सुराग हाथ लग गई। एक दुकान के सीसीटीवी फुटेज में तीनों बच्चों को रेल्वे स्टेशन की ओर जाते विडियो कैद हो गया। पुलिस इसी आधार पर जिले के लगे बिलासपुर ,कोरबा,रायगढ जिले के रेल्वे पुलिस के अलावा चाइल्ड लाइन को इसकी सूचना दी। सभी जिलों के पुलिस व चाईल्ड लाइन के लोग अर्लट हो गए और आसपास खोजबीन शुरू कर दी। बिलासपुर चाइल्ड लाइन को बच्चे रेलवे स्टेशन घूमते दिख गए। इसकी सूचना जांजगीर पुलिस को दी। बिलासपुर रेल्वे स्टेशन में बच्चों की मिलने की सूचना पर पुलिस और परिजनों ने राहत की सास ली है। चाम्पा पुलिस के साथ परिजन बिलासपुर बच्चों को लेने रवाना हो गए है। बच्चों से पुछताछ कर परिजनों को सौंपा जाएगा।
 
बच्चे स्कूल ड्रेस के अलावा अंतर में  पहनते थे दूसरा ड्रेस .. तीनो बच्चे कभी स्कूल जाते थे तो कभी इधर उधर घूमकर कर  अपना समय निकाल देते थे। इसके अलावा परिजनों के अनुसार तीनो बच्चे स्कूल ड्रेस के अंदर और एक कपड़ा पहनते थे। कल स्कूल जाने को निकले और अपना स्कूल ड्रेस, और बेग रोड के पास छोड़ कर ट्रेन में बैठ कर बिलासपुर चले गए थे।