Sunday, December 5, 2021

सरगुजा और अंबिकापुर के तीर्थ स्थल.. मां महामाया की नगरी अंबिकापुर

सरगुजा संभाग मुख्यालय अम्बिकापुर  की पूर्वी पहाडी पर प्राचिन महामाया देवी का मंदिर स्थित है।  महामाया या अम्बिका देवी के नाम पर सरगुजा संभाग...

माता चंद्रसेनी के दर्शनमात्र से शरीर में होता है,, ऊर्जा का संचार

जहां-जहां धरती पर सती के अंग गिरे थे, वहां-वहां मां दुर्गा के शक्तिपीठ स्थापना स्वमेव मानी जाती है। उसी तरह महानदी व माण्ड नदी के...

खजुराहो और कोर्णाक से कम नही “भोरमदेव”

छत्तीसगढ,, इतिहास की बहुत सी  कलाओ के  उदाहरण अपने आंचल में समेटे हुए हैं। यहां के प्राचीन मंदिरों का सौंदर्य हर तरह से खजुराहो...
Don`t copy text!