एक अभिनंदन की वतन वापसी पर..आया दूसरा अभिनंदन..तब उसके पिता ने किया वंदन..पढ़िए पूरी खबर!..

297

महासमुंद..(कृष्णमोहन कुमार)..एक तरफ समूचा देश वायु सेना के जवान अभिनन्दन की वतन वापसी पर उनका अभिनंदन कर रही थी..तो वही दूसरी ओर इस जज्बे से लबरेज एक पिता ने अपने बेटे का नाम ही अभिनंदन रख दिया..यह बतौर उस अभिनंदन के जज्बे को सलाम जो अपने कर्तव्य निर्वहन से पीछे नही हटे ..और डटे रहे..अन्तोगत्वा परिणाम सार्थक रहा..और नतीजा उनकी सकुशल रिहाई!..

दरअसल राजधानी रायपुर से महज 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित महासमुंद में यह वाक्या देखने को मिला ..जब विंग कमांडर अभिनंदन की वतन वापसी हुई ..इसी दौरान नगर पालिका क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 18 निवासी राजेश नामदेव की पत्नी सपना ने एक नवजात शिशु को जन्म दिया..और देश भक्ति से लबरेज राजेश ने उसका नामकरण विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के नाम कर दिया..

बता दे कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान बीते कुछ घण्टो से पाकिस्तान के कब्जे थे..और उन्हें आज देर शाम पाकिस्तानी सेना ने पंजाब के अटारी बार्डर पर भारत को सौप दिया..

आज सुबह से ही लोगो का हुजूम बाघा बार्डर की ओर नजरें जमाये अटारी बार्डर पर विराजमान था..और समूचे देश की नजर इस घटनाक्रम पर टिकी रही..और जिस वक्त विंग कमांडर की रिहाई हुई..उसी वक्त राजेश की पत्नी सपना ने एक नवजात शिशु को जन्म दिया ..जिसके बाद पिता बने राजेश खुशी से फुले नही समा रहे थे..राजेश एक ओर अभिनंदन की वापसी को लेकर खुश थे..तो दूसरी ओर पिता बनने पर..सो उन्होंने इस मौके को यादगार बनाने अपने नवजात शिशु का नामकरण अभिनंदन के नाम कर दिया..जो काबिले तारीफ है..

  • 2
    Shares