जब किसानों के लिए बन रही परियोजना का..किसानों ने किया विरोध.. तब धीरज ने धीरज के साथ प्रशासन से स्थापित किया सामंजस्य!..

3498

बलरामपुर.. (कृष्णमोहन कुमार)..जिले के ग्राम कोटपाली में करोड़ो की लागत से बीते चार वर्षों से खुटपाली व्यपवर्तन के तहत नहर कार्य कराया जा रहा था..जिसका किसान विरोध कर रहे थे..और वह विरोध इसलिए था..क्योकि प्रशासन ने खुटपाली व्यपवर्तन परियोजना से प्रभावित किसानों को मुआवजा नही दिया था..हालांकि की किसानों की लड़ाई क्षेत्रीय जिला पंचायत सदस्य ने लड़ी..और यह संघर्ष रंग लाई.. प्रशासन ने किसानों के क्षतिपूर्ति का आंकलन कर ..भारी जद्दोजहद के बाद कल बीती रात दो किसानों से मुआवजा आबंटित करने का श्री गणेश किया..

दरसल ग्राम कोटपाली में खुटपाली व्यपवर्तन परियोजना पर सिंचाई विभाग की मॉनिटरिंग में चार साल पहले काम शुरू हुआ था.पर किसानों के लिए बन रही इस परियोजना में किसानों की अनदेखी से किसान नाराज थे..लिहाजा जिला पंचायत सदस्य धीरज सिहदेव की अगुवाई में किसानों ने कई बार विरोध प्रदर्शन किया.. इस दौरान उन्हें केवल आश्वासन ही मिला करता था..पर इस बार प्रशासन ने इस मसले पर गम्भीरता से विचार किया.. और कल देर रात इस परियोजना से प्रभावित किसानों का खाका तैयार कर मुआवजा वितरण किये जाने की रणनीति तैयार करते हुए..कलेक्टर हीरालाल नायक,एसडीएम रामानुजगंज दुर्गेश वर्मा ने दो किसानों नरेश को 7.37 लाख,लक्ष्मण को 0.64 लाख का मुआवजा उनके जमीनों के दस्तावेजों के सत्यापन के बाद जारी कर दिया..इस दौरान जिला पंचायत सदस्य धीरज सिहदेव, सिचाई विभाग के ईई एसएन राम मौजूद रहे..

बता दे कि खुटपाली व्यपवर्तन परियोजना से लगभग 6 गांव के 45 से 50 किसान प्रभावित हो रहे है..जिन्हें इस परियोजना के शुरू होने से पहले मुआवजा नही मिल पाया था..तब किसानों ने स्थानीय प्रशासन का विरोध कर इस परियोजना के निर्माण कार्य को बंद करा दिया था..और किसान मुआवजे की मांग कर रहे थे..और अब किसानों के प्रभावित जमीनों के दस्तावेज सत्यापन के बाद मुआवजा वितरण की कार्यवाही शुरू हो गई है..

  • 16
    Shares