Wednesday, June 20, 2018

आज तक पानी से नहीं भरा इस मंदिर का घड़ा..वैज्ञानिक भी हैरान

देखा जाए तो भारत का इतिहास बहुत समृद्ध रहा है, भारत भूमि शुरू से ही चमत्कारों और भक्ति धारा की भूमि रही है, इसी...

इस शहर की रक्षा आज भी करते हैं महाबली भीम

आज हम आपको एक ऐसे शहर के बारे में बता रहें हैं जिसकी रक्षा आज भी महाभारत काल के महाबली भीम करते हैं, हालांकि...

7130 साल पहले पैदा हुए थे मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम..जानिए सही जन्म तारीख..!

देखा जाए भगवान श्री राम और श्री कृष्ण के संबंध में हिन्दू धर्म में अनेक मत प्रचलित है और सभी मतों के लोग अपनी...

कौमी एकता की मिशाल – शिव मंदिर की चादर चढाते है दरगाह में..!

देखा जाए तो हिन्दू-मुस्लिम के नाम पर आज तक कई कई विवाद कराने की नाकाम कोशिश की गई है और समय-समय पर की जाती...

70 किलो सोना और 450 किलो चांदी के साथ प्रकट हुए गणपति..!

सोमवार का दिन हालांकि अन्य दिनों की ही तरह था पर काफी लोगों के लिए यह दिन बहुत अहम था। जब भारत के अलग-अलग...

इस कुंड में डुबकी लगाने से लौट आती है आंखों की रोशनी

भारत देश में बढ़ते प्रदूषण, कंप्यूटर के लगातार इस्तेमाल व आदि कई कारणों से विशेषकर शहरी युवाओं की आंखों पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा...

साढ़े 13 किलो सोना पहन कर निकले “गोल्डन बम” कंवारिया

नई दिल्ली हाईवे से बुधवार को गोल्ड बाबा गुजरे तो उन्हें देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। हर कोई बाबा की एक झलक पाने...

आस्था : घने जंगल में बसे बछराज कुंवर धाम की महिमा…

अम्बिकापुर प्रातापपुर से "राजेश गर्ग"   प्रतापपुर से लगभग 40 किलो मीटर की दूरी पर बलरामपुर-रमानुंजगंज जिले के वाड्रफनगर जनपद के अंतर्गत सघन वनों के बीच...

रुद्राभिषेक क्यों है इतना प्रभावी और महत्वपूर्ण….

भगवान शिव अनादि व अनन्त हैं अर्थात न तो कोई भगवान शिव के प्रारंभ के बारे में जानता है और न ही कोई अंत...

यहां तोते की मजार में करते है सजदा…

  अम्बिकापुर देश दीपक "सचिन" समाजिक भाईचारे की ऐताहासिक पृष्ठभूमि वाला सद्भावना ग्राम है तकिया विश्व की एकलौती तोते की मजार है मुख्य आकर्षण का केन्द्र...