Friday, October 19, 2018

विशेष लेख : कोरिया जिला : नौ साल में तय किए विकास के नए...

  पवन गुप्ता छत्तीसगढ़ के कोयलांचल के रूप में विख्यात, वनों से आच्छादित और जनजाति संस्कृति से ओतप्रोत कोरिया जिला जो कभी अपने पिछड़ेपन के कारण...

रक्तदान से नहीं आती कमजोरी और रक्त दान की आवश्यकता…

अतुलनीय संवेदनशीलता की मिशाल है-रक्तदान अम्बिकापुर  सभी धर्मों में दान का विशेष महत्व है। दान मानव की संवेदनशीलता का द्योतक है। सामान्यतः अपनी कमाई का दशवां...

विशेष लेख : परंपराओं की गोद, कलाओं का पलना

केवलकृष्ण नांदगांव वही शहर है जो अक्सर पूछता है- जरा बताओ तो मेरे दोस्त तुम्हारी राजनीति क्या है। नांदगांव वही शहर है जो बताता है...

विशेष लेख : ये छत्तीसगढ़ है मेरी जान

 केवल कृष्ण गेंद उछली और धारणाओं के कोहरे को चीरती हुई निकल गई। बल्ले ने घूमकर ऐसा शाट लगाया कि अफवाहें, गलतफहमियां शीशे की तरह...

विशेष लेख : बहुत पुरानी बात नहीं, एक गांव था…

केवलकृष्ण अभी दिन ही कितने हुए हैं। सवा साल ही तो। किसी इलाके में इतनी थोड़ी अवधि में किसी बड़े परिवर्तन की उम्मीद कैसे की...

विशेष लेख : लाल पानी में दूध की धार

केवल कृष्ण ढोलकाल के शिखर पर गणपति मुस्कुरा रहे हैं। बादलों से लिपटी बैलाडीला की पहाड़ियां उचक-उचक कर देख रही हैं। शंखनी-डंकनी मचल रही हैं।...

अच्छी सड़कों से बढ़ने लगी विकास की रफ्तार…

                                               ...

रमन ने बदली छत्तीसगढ़ के खेल जगत की तस्वीर

देश के किसी भी राज्य में खेलों के विकास और खेल प्रतिभाओं को बढ़ावा देकर एक बेहतर खेल वातावरण के निर्माण में वहां के...

रमनराज को आदिवासियो ने नकारा… क्या होगा आगामी पांच वर्ष

सम्पादकीय आदिवासी बाहुल्य छत्तीसगढ मे तीसरी बार भाजपा को जनादेश मिला, और वो सरकार बना रही है। लेकिन सरगुजा और बस्तर मे सीटो का अप्रत्याशित...

हवाओ मे तीर चलाने वालो की निगाह से रविवार को हटेगा पर्दा.. जब सरकार...

सम्पादकीय... छत्तीसगढ विधानसभा के लिए कयालो के पुल बनाने वाले और हवाओ मे तीर चलाने वाले विश्लेषको की मन कल उस वक्त स्थिर होगा,, जब...
error: Content is protected !!