क्या कुर्मी वोटरो पर सेंध लगा पायेगें मोती लाल देवागंन…जांजगीर चांपा विधानसभा मे सब की नजर कुर्मी मतदाताओं पर….

2178

जांजगीर चांपा। मतदान की तारीख जैसे -जैसे नजदीक आ रही है पार्टीयों मे नये -नये समीकरण रोज बन रहे हैं । सभी पार्टीओं द्वारा वर्ग विशेष वोटरो को साधने मे लगे हुऐ हैं। कोई भी पार्टी अपने वोट बैंक को गंवाना नही चाह रही है। जांजगीर चांपा विधानसभा में कुर्मी वोटरों की बात की जाय तो लगभग 20 हजार के करीब आंकी जा रही हैं जो किसी भी प्रत्याशी के लिए जीत हार में अहंम साबित हो सकती हैं। विधानसभा के सभी पार्टीयो की नजर इन्ही वर्ग विशेष पर टिकी हैं। जो एक निर्णायक भूमिका निभा सकती है। ऐसे देखा जाय तो भाजपा से नारायण चंदेल मैदान मे है तो बसपा से ब्यास कश्यप है, दोनो एक ही वर्ग विशेष से प्रतिनिधित्व करते है। इस लिए दोनो पार्टी अपने वोट बैंक को बचाने की कोशिश कर रही हैं वही दूसरी ओर कांग्रेस से मोती लाल देवागंन मैदान मे है जो कुर्मी वोटरो मे सेंध लगाने की कोशिश मे लगे हुऐ है। अब देखना होगा कि कौन अपने मकसद मे कामयाब हो पाते है कि नही। वही कुर्मी वोटरो का रूझान किस पार्टी की ओर जा रहा हैं यह देखने लिए थोड़ा इंतजार करना होगा। दिपावाली के बाद चुनाव सरगर्मीयां तेज हो रही हैं. प्रत्याशीयो के पक्ष में क्षेत्र मे स्टार प्रचारको की डेट फिक्स हो रही हैं। जांजगीर चांपा विधानसभा अब हाईप्रोफाइल सीट बन गई हैं। वही आगामी संभावित दिनों में भाजपा केें स्टार प्रचारक उ.प्र. के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ एंव अमित शाह को दौरा की डेट बन रही है तो बसपा व कांग्रेस के स्टार प्रचारकों का आना तय होने जा रहा है।