हत्या, आगजनी, आईईडी ब्लास्ट करने की घटनाओं में शामिल.. तीन नक्सली जनमिलिशिया सदस्य अलग-अलग क्षेत्रों से गिरफ़्तार

1089

दंतेवाड़ा..बस्तर रेंज में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों द्वारा चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत मुखबिर की सूचना पर तीन नक्सली जनमिलिशिया सदस्यों को गिरफ़्तार करने में पुलिस ने सफलता प्राप्त की है…

थाना कुआंकोंडा पुलिस ने मंगालिर एरिया कमेटी में सक्रिय जनमिलिशिया सदस्य हूँगा कटराम पिता लखमा कटराम, उम्र 35 वर्ष, निवासी बड़ेगुडरा (कानकीपारा) को सुकमा से गिरफ़्तार कर थाना लाया गया। जहाँ पूछताछ करने पर उक्त माओवादी ने निम्न घटनाओं में शामिल होना कुबूल किया…

(1) वर्ष 2013 में नकुलनार साप्ताहिक बाज़ार में प्रधान आरक्षक गौतम पांडेय की धारदार हथियार से मारकर हत्या कर उसके रायफल व मेनपेक सेट को लूटने की घटना में शामिल था।

(2) वर्ष 2014 में ग्राम टेटल और एटेपाल के बीच कच्ची सड़क में पुलिस बल को आते देखकर जान से मारने व हथियार लूटने की नियत से फायरिंग व बम ब्लास्ट करने की घटना में शामिल था।

(3) वर्ष 2015 में ग्राम धनीकरका पोटाकेबिन आश्रम में काला झंडा फहराने की घटना में शामिल था।

(4) दिनांक 28/09/15 को ग्राम बड़ेगुडरा के कानकीपारा के जंगल मे पुलिस टीम को जान से मारने की घटना में शामिल था।

(5) वर्ष 2016 में ग्राम नकुलनार में आईटीआई निर्माण कार्य मे लगे मिक्चर मशीन को आग लगाकर क्षतिग्रस्त करने की घटना में शामिल था।

(6) दिनांक 26/02/17 को ग्राम मोखपाल जर्रीपारा में पूल निर्माण कार्य मे लगे मिक्चर मशीन को आग लगाकर क्षतिग्रस्त करने की घटना में शामिल था।

इसी प्रकार थाना अरनपुर क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम निलावाया के जंगल पहाड़ी क्षेत्र में सर्चिंग के दौरान जिला पुलिस बल, डीआरजी व एसटीएफ की संयुक्त टीम ने घेराबंदी कर दो जनमिलिशिया सदस्य भीमा कवासी पिता मुका कवासी व सोमारू मडकंम पिता पाण्डु को गिरफ़्तार करने में सफलता पाई है…

उक्त गिरफ़्तार माओवादी जनमिलिशिया सदस्यों द्वारा पुलिस को नुकसान पहुंचाने की नियत से कुआंकुंडा-अरनपुर मार्ग में ग्राम माडेदा के समीप सड़क किनारे अपने अन्य माओवादी साथियों के साथ मिलकर दिनांक 28/01/18 को दो आईईडी बम लगाने की घटना में शामिल थे, इसके अतिरिक्त इनके द्वारा माओवादीयों के लिए संत्री ड्यूटी करना, रोड खोदना, गांववालों को माओवादीयों द्वारा आयोजित मीटिंग में बुलाना, माओवादियों के लिए भोजन कि व्यवस्था करने का काम भी करते थे…

  • 2
    Shares