निर्वाचन अधिकारी के ऐसे फरमान के बाद..30 से अधिक वाट्सएप ग्रुप बन्द..तो कुछ लोग कर रहे विरोध…

4070

भिंड..आदर्श आचरण संहिता लगने के बाद प्रशासन सख्त हो गया है..चुनाव आयोग ने चुनाव प्रचार के विभिन्न माध्यमों की निगरानी के लिए टीमें गठित करने के निर्देश दिए है..और इस आशय से टीमें गठित भी की गई है.तथा आधुनिक युग मे प्रचलित शोसल मीडिया पर भी प्रशासन की नजर है..वही जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर के फरमान के बाद अब शोसल साईट की अहम कड़ी वाट्सएप के ग्रुप एडमिनो में हड़कम्प मच गई है..

दरसल जिला निर्वाचन अधिकारी व कलेक्टर आशीष गुप्ता ने चुनाव आयोग के आदेश के परिपालन में विभिन्न वाट्सएप ग्रुपो के एडमिनो को जनसम्पर्क कार्यालय में पंजीयन कराने का फरमान जारी कर दिया है..तथा उक्त पंजीयन की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर निर्धारित की गई है..जिसके बाद विभिन्न वाट्सएप ग्रुपो के एडमिनो में हड़कम्प मच गया है..इतना ही नही बगैर पंजीयन के वाट्सएप पर संचालित ग्रुपो के एडमिनो पर कार्यवाही करने की बात भी सामने आ रही है..

वही जानकारी के मुताबिक कार्यवाही के पचड़े से बचने के फेर मे 30 से अधिक ग्रुप एडमिनो ने तो वाट्सएप ग्रुप ही बन्द कर दिया है..

इसके अलावा कई लोग ऐसे भी है..जिन्होंने कलेक्टर के इस फरमान को कोर्ट में चुनौती देने की तैयारी कर ली है..उनका मानना है की निर्वाचन अधिकारी के इस आदेश से उनकी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता समाप्त हो जाएगी..

  • 7
    Shares