खुद अपनी गलती से फंस गया मुर्गी चोर अजगर. फिर लगा दिया गया ठिकाने

11000

कांकेर . चोरी के आरोपी को पुलिस मौका पाते ही गिरफ्तार कर लेती है. लेकिन मुर्गी चोर अजगर को पकड कर वन विभाग ने तुरंत छोड दिया . पढकर अटपटा जरूर लग सकता है. लेकिन ये हकीकत है कि आज कांकेर जिले के एक गांव मे मुर्गी चोर अजगर को वन विभाग ने पहले पकडा फिर उसको उसके ठिकाने यानी जंगल मे छोड दिया है. हालांकि मामला वन्य प्राणियों को भोजन चक्र का है. लेकिन ग्रामीणों के नुकसान को देखते हुए वन विभाग की ये जिम्मेदारी बनती है कि वो किसी भी इंसान की बस्ती मे घुसे वन्य प्राणी की सुरक्षा करे.

जानकारी के मुताबिक कांकेर जिले के कापसी के द्वारकापुर गांव मे आज एक घर मे 13 फिट का लम्बा विशाल अजगर घुस गया. वैसे गांव के एक किसान के घर से मिले इस अजगर की ग्रामीणो को बहुत दिनों से तलाश थी. क्योकि ग्रामीण को शक है कि ये वही अजगर है जो उनके मुर्गा- मुर्गी को खा जाता है. जिससे उनके कमाउ मुर्गे मुर्गियों की संख्या दिन बदिन कम होती जा रही है . लिहाजा गांव के एक किसान के घर मिले अजगर के देखते ही बिना देर किए ग्रामीणों ने वन विभाग की टीम को इसकी जानकारी दी . और फिर वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुँच कर अजगर को सुरक्षित अपने कब्जे मे लिया और गांव से दूर परलकोट जलाशय के समीप घने जंगलो में सुरक्षित तरीके से छोड़ दिया. बहरहाल लगता तो ये है कि अजगर ना ग्रामीण के घर मे घुसता और ना फंसता !

  • 15
    Shares