राफेल विमान घोटाले में मोदी ने खाई दलाली: डॉ. शिवकुमार डहरिया

572
कांग्रेसियों ने घोटाले को लेकर किया धरना-प्रदर्शन, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन  
जांजगीर-चांपा। चुनाव पूर्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहा करते थे कि न खाऊंगा न खाने दूंगा, लेकिन आज जब राफेल विमान सौदे की दलाली खाने का मामला उजागर हुआ है, तब से प्रधानमंत्री कहते है दूसरे नहीं अकेले मैं ही खाऊंगा। राफेल मामले से स्पष्ट है कि केन्द्र की मोदी सरकार आकण्ठ भ्रष्टाचार और कमीशन खोरी ने डुबी हुई है। उक्त बातें प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. शिव कुमार डहरिया ने जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा आज नगर के कचहरी चौक में राफेल विमान सौदे घोटाले को लेकर हुई धरना-प्रदर्शन के दौरान कही। उन्होंने आगे कहा कि मोदी सरकार ने राफेल सौदे में देशहित और देश की सुरक्षा को दांव पर लगाने का अक्षम्य अपराध किया है। प्रधान और रक्षामंत्री राफेल घोटाले पर पर्दा डालने के लिए रहस्यमयी, हठधर्मी और साजिशी चुप्पी साधे हुये है। सौदे में डिफेंस प्रोक्योमेंट प्रोसीजर की शर्तो की धज्जियां उड़ाते हुये एचएएल कंपनी को दरकिनार कर अपनी पंूजीपति मित्र अंबानी को फायदा पहुंचाते हुये सरकारी खजाने को 41 हजार करोड़ का चुना लगाया है। मोदी सरकार सच्चाई बताने और तथ्यों को सार्वजनिक पटल पर रखने से इंकार कर रही है। श्री डहरिया ने प्रदेश की रमन सिंह नेतृत्व वाली सरकार भी कमीशन खोरी और भ्रष्टाचार में लिप्त है। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री आपस में मिलकर अगस्ता हेलीकाप्टर खरीदी में उनके परिवार की संलिप्तता उजागर होने के बाद भी मामले की सच्चाई सामने लाने जांच कराने से बच रही है। इस दौरान उन्होंने मांग की कि राफेल सौदे में हुये घोटाले में प्रधानमंत्री व अन्य निजी और सरकारी व्यक्तियों की भूमिका की जांच संयुक्त संसदीय समिति से कराकर देश की जनता को जवाब दे। कार्यक्रम को प्रदेश कांग्रेस सचिव सुश्री शशिकांता राठौर, इंका नेता दिनेश शर्मा, इंजी. रवि पाण्डेय, प्रेमचंद जायसी, रमेश पैगवार, गजानंद जांगड़े, कुशल कश्यप, दीपक दुबे, चंद्रदेव महंत, श्रीमती शेषराज हरवंश ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन प्रवक्ता रफीक सिद्धिकी ने व आभार प्रदर्शन नगर कांग्रेस अध्यक्ष विवेक सिंह सिसोदिया ने किया। धरना-प्रदर्शन के बाद अपनी मांगों का ज्ञापन महामहिम राष्ट्रपति के नाम अनुविभागीय अधिकारी को सौंपा।
  • 2
    Shares