एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट की हत्या मामला. किश्त ना पटा पाने वाला कैब ड्रायवर हत्या के आरोप मे गिरफ्तार

6292

मुंबई . एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी की हत्या के मामले मे मुंबई पुलिस ने अहम खुलासा कर दिया है. इस खुलासे के पहले ये कयास लगाए जा रहे थे कि संघवी की हत्या के पीछे ऑफिस के किसी सहकर्मी का हाथ हैं. लेकिन अब पुलिस ने इस मामले मे एक कैब ड्राइवर को गिरफ्तार किया है.

 

पुलिस की माने तो एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी की हत्या चंद रूपयो के लिए कर दी गई थी. आरोपी के मुताबिक आरोपी ने कोर्ट में बताया कि उसने सिद्धार्थ संघवी की हत्या कमला मिल्स में की. इसके बाद लाश को कल्याण हाजी मलंग रोड पर फेंक दिया और कार को नवी मुंबई में छोड़कर भाग गया.

लूटपाट की नीयत हो गया कत्ल.

इस मामले मे मुंबई पुलिस ने सरफराज शेख नाम के एक कैब ड्राइवर को गिरफ्तार किया है. जिस पर संघवी की हत्या का आरोप है. इधर पुलिस की माने तो आरोपी युवक ने पूछताछ मे अपने ऊपर लगे आरोपों को कबूल लिया है. उसने पुलिसिया पूछताछ मे बताया है कि उस पर बाइक का 30 हजार रुपये का लोन था. आरोपी सरफराज ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि बाइक की ईएमआई के पैसे नहीं चुका पाने की वजह से से उसने लूटपाट की योजना बनाई थी. और यही कारण है कि आरोपी ने पहले संघवी को चाकू दिखाकर रूपए लूटने का प्रयास किया और जब मृतक सिद्धार्थ संघवी ने पैसे देने से इनकार किया, तो आरोपी ने धारदार हथियार से सिद्धार्थ पर कई वार कर दिए. फिलहाल पुलिस ने आरोपी सरफराज़ को कोर्ट में भी पेश किया है और उसने अपना गुनाह कुबूल भी कर लिया है. कोर्ट ने आरोपी को 19 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

  • 2
    Shares