शक की बीमारी ऐसी की..पत्नी और पुत्र को अधमरा कर खुद का रेत लिया गला..अब तीनो जूझ रहे जिंदगी और मौत से…

3047

कोरिया..कहते है शक का कोई इलाज नही होता ..और खासकर चरित्र शंका कभी -कभी ऐसा रूप ले लेती है..जिससे जान पर आफत बन आती है..एक ऐसा ही वाक्या बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बड़गाँव में कल रात घटित हो गया..

दरसल बड़गाँव निवासी गुलाब सिंह ने अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह करते हुए धारदार हथियार से उस पर हमला कर दिया..उसे अधमरा छोड़ने के बाद भी उसका गुस्सा शांत नही हुआ तब उसने अपने 6 साल के बच्चे पर भी हमला कर दिया..तथा पत्नी पुत्र पर जानलेवा हमला करने के बाद गुलाब ने खुद का गला धारदार हथियार से रेत दिया ..

पड़ोसियों के मुताबिक पति -पत्नी में कल रात लगभग आठ बजे चरित्र शंका पर उपजे विवाद ने ऐसा मोड़ लिया कि अभी गुलाब सिंह,उसकी पत्नी और उसका बेटा जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे है..उन्हें अस्पताल मे भर्ती कराया गया है..
वही पुलिस ने मामले में गुलाब सिंह पर हाफ मर्डर का मामला दर्ज कर लिया है…

  • 9
    Shares