बेहद दर्दनाक.. बच्चे को गोद मे लेकर आ रही मां की हो गई मौत.. बच्चे की चलती सांस को देख पहुंचाया गया अस्पताल…

30283

अम्बिकापुर …रफ्तार और लापरवाही कभी कभी दर्दनाक हादसों की वजह बन जाती है.. ऐसा ही दर्दनाक हादसा आज अम्बिकापुर से झारखंड जाने वाली रोड पर बफौली स्वास्थ्य केन्द्र के सामने हुआ.. जिसके बाद हादसे के दौरान पलटी स्कार्पियो वाहन से एक महिला और दो बच्चों को निकाला गया.. जिसमे महिला के मौत की पुष्टि पुलिस अधिकारी ने कर दी है.. लेकिन दोनो गंभीर घायल बच्चों को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है. वही वाहन चालक मौके से फरार बताया जा रहा है…

जानकारी के मुताबिक किराए मे वाहन चलाने वाले पर्राडांड निवासी समीम अंसारी के स्कार्पियो क्रमांक सीजी 15 बी 9880 को उसका ड्राइवर बुकिंग मे बलरामपुर जिले के कुसमी जा रहा था..और वाहन की बुकिंग करने वाले फहीम अंसारी अपने बच्चे का इलाज कराने के बाद अपने घर कुसमी जा रहे थे.. तभी राजपुर रोड पर कोतवाली थाना क्षेत्र के बफौली स्वास्थ्य केन्द्र के सामने, वाहन अनियंत्रित होकर पलट गई.. जिसके बाद दूसरी तरफ से आ रहे आम आदमी पार्टी के भटगांव प्रत्याशी डी के सोनी की नजर पलटे वाहन पर पडी.. और उन्होंने बिना देर किए पहले तो वाहन के कांच तोडकर अंदर फंसे महिला और बच्चो को बाहर निकालाने काम शुरू किया और घटना की जानकारी फटाफट न्यूज और कोतवाली पुलिस को दी.. जिसके बाद फटाफट न्यूज के लोगों ने घटना की जानकारी केवल कोतवाली पुलिस को ही नही ब्लिक बरियों और धौरपुर थाना पुलिस को भी दी.. इधर घटना की सूचना पर कोतवाली प्रभारी विनय सिंह ने भी तत्परता दिखाई और पुलिस बिना देर किए मौके पर पहुंच गई.. फिर निकाले गए घायलों को बिना देर किए इलाज के लिए अम्बिकापुर भेजा गया है… फिलहाल कोतवाली प्रभारी के मुताबिक महिला की मौके पर ही मौत हो गई है.. लेकिन करीब 5 साल के बड़े बेटे के मौत की पुष्टि अस्पताल पहुंचने के बाद हुई.. फिलहाल मां गोद मे घायल हुए दो ढाई साल के बच्चे और पिता का इलाज अम्बिकापुर जिला अस्पताल में चल रहा है…

मां की गोद मे लिपटा था बच्चा…

गौरतलब है कि जब वाहन का कांच तोडकर महिला को बाहर निकाला गया.. तब बच्चा मां की गोद मे था और उसकी सांस चल रही थी.. जबकि मां की सांस थम गई थी.. इसके अलावा बच्चे के पिता की हड्डियों और पसलियों मे चोंट आई है.. लेकिन सबसे बड़ी बात जिस मां की मौत हो गई उसकी गोद मे सोया बच्चा अभी भी इस दुनिया मे है.. इसे ऊपर वाले की दुआ और हादसे को किसी होनी से ज्यादा फिलहाल कुछ नहीं कहा जा सकता है….

  • 27
    Shares