मामला ग्रीन इंडिया के राशि गबन का..विधायक समेत मजदूर पहुँचे थाने..सम्बंधित अधिकारियों पर कार्यवाही करने दी अर्जी…

2211
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add
अम्बिकापुर (सीतापुर:-अनिल उपाध्याय) ग्रीन इंडिया के तहत हुये वृक्षारोपण की आड़ मे फर्जी मस्टररोल के जरिये मजदूरों का पैसा गबन कर वन विभाग के अधिकारी मालामाल हो गये।अधिकारियों द्वारा किये गये इस फर्जीवाड़े के कारण बेहाल मजदूर अधिकारियों पर गबन का आरोप लगा आदिवासी काँग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं विधायक अमरजीत भगत के नेतृत्व में थाने पहुँचे और दोषियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज करा कार्रवाई की मांग की।मजदूरों ने अधिकारियों पर आरोप लगाते हुये कहा कि अपना स्वार्थ साधने अधिकारियों ने फर्जीवाड़े को अंजाम देकर हमें पाई-पाई को मोहताज कर दिया है अगर इनके विरुद्ध कार्रवाई नही हुआ तो हम सभी मजदूर अपने हक़ के लिये उग्र आंदोलन के साथ वन विभाग का घेराव एवं चक्काजाम कर विरोध प्रकट करेंगे।
            अंधाधुंध कटाई से उजाड़ हो चुके जंगलो को फिर से हराभरा करने केंद्र सरकार की ग्रीन इंडिया योजना अंतर्गत वन विभाग द्वारा जुलाई 2017 में ग्राम देवगढ़ के राजाअट्टा क्षेत्र में वृक्षारोपण कार्य कराया गया था।लगभग चार माह तक चले इस कार्य मे गाँव के सैकडों लोगो ने मजदूरी की थी जिन्हें काम के दौरान जरूरत के अनुसार भुगतान दिया गया था शेष भुगतान काम पूरा होने के बाद किया जाना था किंतु काम बंद हुये साल भर हो गये मजदूरों को उनका भुगतान नही मिल पाया।ग्रीन इंडिया के आड़ में अधिकारी फर्जी मस्टररोल के जरिये मजदूरों की मेहनत की गाढ़ी कमाई गबन कर  मालामाल हो गये और मजदूरो को उनके हाल पर छोड़ दिया।मजदूर भुगतान को लेकर कई बार अधिकारियों से मिले मिन्नते की लेकिन कोई फायदा नही हुआ उन्होंने विधायक के जरिये भी कई बार भुगतान हेतु दबाव बनाया किंतु इससे भी बात नही बनी।फर्जीवाड़ा कर लाखो का गबन करने वाले अधिकारियों के मजबूत गठजोड़ के सामने बेबस मजदूर थक हार कर साल भर बाद आदिवासी काँग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं विधायक अमरजीत भगत के नेतृत्व में थाने पहुँचे और मजदूरी भुगतान की राशि गबन करने वाले वन अमला के विरुद्ध थाने में रिपोर्ट दर्ज करा कार्रवाई की माँग की।इस संबंध में गाँव के बालसाय पितरूस दिनेश देवप्रसाद वीरेंद्र आदि ने कहा कि भुगतान का चक्कर मे इंतजार करते साल बीत गया अब पानी सर से ऊपर हो गया है अगर हमारे साथ न्याय नही हुआ तो सभी ग्रामवासी उग्र आंदोलन का रास्ता अख्तियार करते हुये वन विभाग का घेराव सहित चक्काजाम कर विरोध प्रदर्शन करेंगे।
मजदूरों के भुगतान में फर्जीवाडा करना अक्षम्य अपराध:-मजदूरों का नेतृत्व करते थाने पहुँचे प्रदेश आदिवासी काँग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं विधायक अमरजीत भगत ने कहा कि मजदूर अपना खून पसीना बहाकर मेहनत करता है ताकि वो अपने परिवार का भरण पोषण कर सके।इस हालत के बाद भी अगर ऐसे लोगो का पैसा वन विभाग के अधिकारी फर्जी तरीके से गबन कर लिये है तो ये काफी शर्मनाक बात है अक्षम्य अपराध है कम से कम मजदूरों को तो बख्स दिया जाना था। मेरा पूरा समर्थन मजदूरों के साथ है और मैं चाहता हुँ की दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई हो।इस अवसर पर ब्लॉक काँग्रेस अध्यक्ष रमेश गुप्ता गणेश सोनी विधायक प्रतिनिधि अरुण गुप्ता बदरुद्दीन एराकी राहुल गुप्ता रवि गुप्ता उमेश दास अनिल निराला सरपंच सुर सहित सैकड़ों महिला-पुरूष मजदूर उपस्थित थे।
इस संबंध में एस डी ओ पी ऐश्वर्य चंद्राकर ने बताया कि मामले को जाँच में रखा गया है मजदूरों को न्याय दिलायेंगे।
इस संबंध में एस डी ओ वन चूड़ामणि सिंह ने बताया कि फर्जीवाड़े जैसी कोई बात नही है दरअसल ऑनलाइन भुगतान होने के कारण ये संभव नही है।समिति में पैसे की कमी और मजदूरों के बीच जानकारी का अभाव होने से ऐसी स्थिति निर्मित हुई।अन्य समिति से पैसा लाकर मजदूरों का भुगतान कराया जा रहा है एक दो दिन में सब हो जायेगा।
  • 4
    Shares
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add