रैनखोल जिले का प्रथम ऊर्जा दक्ष आदर्श ग्राम बना…. ग्रामीणों का मिला निःशुल्क बल्ब एवं पंखा…

880
विधायक कलेक्टर व सीईओ ने किया गांव का भ्रमण 

    जांजगीर-चांपा-  विकासखण्ड मुख्यालय सक्ती से 25 किलोमीटर. दूर स्थित ग्राम पंचायत ऋषभतीर्थ के आश्रित ग्राम रैनखोल को ऊर्जा दक्ष आदर्श ग्राम बनाया गया है। सक्ती विधायक, कलेक्टर श्री नीरज कुमार बनसोड़, जिला पंचायत के सीईओ श्री अजीत वसंत ने सोमावार 9 जुलाई को गांव का भ्रमण किया। भ्रमण के दौरान ग्रामीणाों से चर्चा की एवं घरो में लगाए एलईडी बल्ब एवं पंखो का निरीक्षण किया। गांव में आयोजित कार्यक्रम में 90 परिवारों को चार-चार एलईडी बल्ब निःशुल्क प्रदान किया गया। उल्लेखनीय है कि गांव  में 95 प्रतिशत परिवार गरीब एवं अनुसूचित जनजाति  वर्ग से है। गांव के प्रत्येक घरो में एक-एक नग एनर्जी एफीसियेंट पंखा स्थापित किया गया है।  विधायक  ने आदिवासी विकास विभाग की योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। ऊर्जा संरक्षण की दिशा में किए जा रहे प्रयासों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कलेक्टर ने कहा कि विद्युत ऊर्जा संरक्षण करना हमसब की महत्व जिम्मेदारी है। ऊर्जा दक्ष आदर्श ग्रामों में कम विद्युत खपत वाले उपकरण स्थापित किया जा रहा है। क्रेडा विभाग के जिला अधिकारी भानु प्रताप ने बताया कि ऊर्जा दक्ष आदर्श ग्राम के सभी घरों के सामन्य बल्ब के स्थान पर एलईडी बल्ब व सामान्य पंखों को एनर्जी इंफिसियेंट उपकरण फाईव स्टार रेटिंग वाले पंखे में बदला जाएगा। स्ट्रीट लाईट में एल.ई.डी. बल्ब और पेयजल के लिए पूर्व में स्थापित समबर्सिबल पंप को फाईव स्टार रेटिंग वाले सबमर्सिबल पंप में प्रतिस्थापित किया जाएगा।

  • 14
    Shares