चोरी का कोयला खपाने अवैध रूप संचालित कोल डिपो में प्रशासन ने दी दबिश….

7051
अम्बिकापुर (सीतापुर अनिल उपाध्याय) :-सरगुजा जिले के सरहदी गाँव उलकिया बरबहला में चोरी का कोयला खपाने छोटे झाड़ के शासकीय भूमि पर अवैध रूप से संचालित हो रहे कोल डिपो में प्रशासन ने एस डी एम अतुल सेटे के नेतृत्व में दबिश दी किन्तु दबिश से पूर्व ही संचालकों ने वहाँ से कोयला हटा दिया था।मौके पर प्रशासन को दूर तक कोयला के अवशेष बिखरे पड़े मिले जिससे यह बात साबित हो गई कि यहाँ चोरी छिपे कोयले का अवैध कारोबार धड़ल्ले से संचालित हो रहा है।
              विदित हो कि जशपुर जिले से सटे सरगुजा के सरहदी गाँव उलकिया बरबहला में छोटे झाड़ के शासकीय भूमि पर विगत लंबे समय से चोरी का कोयले का अवैध कारोबार संचालित हो रहा है जिसे मुख्य रूप से दो लोग मिलकर संचालित कर रहे है।ये दोनों कोयला परिवहन करने वाले वाहन के चालको से साँठगाँठ कर सस्ते दरो पर कोयला खरीद कर उसे महँगे दामो में बाहर खपा लाखो का वार न्यारा करते थे।इस काम को ये दोनों किराना दुकान एवं ढाबा के आड़ में बखूबी अंजाम देते थे।इनके इस काले कारनामो से इस क्षेत्र में चोरी का कोयला खरीदने का अवैध कारोबार तेजी से पैर पसारने लगा था इनकी देखा देखी अन्य लोग भी इस काम मे हाथ आजमाने लगे थे जिससे यहाँ अराजक माहौल निर्मित होने की संभावना बढ़ने लगी थी।समाचार पत्रों के माध्यम से जैसे ही प्रशासन को यहाँ चोरी का कोयला खरीदी-बिक्री की जानकारी मिली एस डी एम अतुल सेटे ने दलबल के साथ रविवार सुबह अवैध रूप से संचालित कोल डिपो में छापा मारा लेकिन दबिश से पूर्व ही संचालकों ने भारी तादाद में यहाँ रखा कोयला पार कर दिया था किन्तु दूर तक बिखरे कोयले के अवशेष इस बात को प्रमाणित कर रहे थे कि यहाँ लंबे समय से बड़े पैमाने पर चोरी का कोयला का अवैध व्यापार धड़ल्ले से संचालित होता चला आ रहा है और मुख्य रूप से दो लोग इस काले कारनामे को बेखौफ अंजाम दे रहे है।
छापे में ढाबा से मिला 16 बोरा अवैध कोयल..
दबिश के दौरान एस डी एम अतुल सेटे के निर्देश पर तहसीलदार विजेंद्र सिंह सारथी ने गुतुरमा सराइपारा के एक ढाबे में छापा मारा और वहाँ अवैध रूप से रखा 16 बोरा कोयला जब्त कर ढाबा संचालक के विरुद्ध कार्रवाई की।इस कार्रवाई के दौरान नायब तहसीलदार प्रमोद कुमार भारद्वाज साहब आर आई भारद्वाज जी पटवारी सुधीर सिंह नरेंद्र यादव समेत पुलिस कर्मी मौजूद थे।
इस संबंध में एस डी एम अतुल सेटे ने बताया कि छापामारी के दौरान मौके पे कोयला नही पाया गया किन्तु उसके अवशेष वहाँ मिले।उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान रंजीत गुप्ता ने नीजि काम हेतु कोयला खरीदना बताया है उसे इस संबंध में दस्तावेज लेकर बुलाया गया है।
  • 23
    Shares