सरहदी क्षेत्र में बेखौफ चल रहा है कोयले का अवैध कारोबार.. पुलिस कह रही है भेज कर लेंगे जानकारी

5698

अम्बिकापुर(सीतापुर से अनिल उपाध्याय)पड़ोसी जिला जशपुर की सीमा से सटे सरगुजा के सरहदी गाँव उलकिया बरबहला में चोरी के कोयले का अवैध कारोबार बेखौफ संचालित हो रहा है।लोग पुलिस की आँखों मे धूल झोंक ढाबा एवं किराना व्यवसाय की आड़ में चोरी का कोयला धड़ल्ले से खपा मालामाल हो रहे है।कोयले के इन अवैध कारोबारियों के विरुद्ध कार्रवाई नही होने से इनके हौसले बुलंद है।

गौरतलब है कि सरगुजा जिले का सरहदी गाँव उलकिया बरबहला कोयले के अवैध कारोबार को लेकर सुर्खियों में है यहाँ चोरी के कोयले का अवैध कारोबार काफी तेजी से फलफुल रहा है कोयले के अवैध व्यापारी सस्ते दर पर चोरी का कोयला खरीद कर उसे कई गुना महँगे दरो पर क्षेत्र में संचालित अवैध ईट भट्टों में खपा रहे है।क्षेत्र में चोरी का कोयला खरीदी और अवैध कारोबार पूरे सेटिंग पर संचालित हो रहे है क्योकि ओव्हरलोड कोयला लेकर सैकड़ो की तादाद में वाहन उलकिया से होकर रायगढ़ एवं उड़ीसा जाती है जिनसे साँठगाँठ कर कारोबारी सस्ते दामो पर सैकड़ो टन चोरी का अवैध कोयला खरीदते है और किराना दुकान एवं ढाबा की आड़ में कोयले का अवैध व्यापार करते है।काफी लंबे समय से जारी कोयले के इस अवैध कारोबार में किसी के विरुद्ध ठोस कार्रवाई नही होने से इनके हौसले बुलंद है और इसी तर्ज पर उलकिया सहित सुखरापारा जैसे गाँवो में धड़ल्ले ले चोरी के कोयले की खरीदी-बिक्री बढ़ती जा रही है।लोग वाहन चालकों से साँठगाँठ कर सस्ते दामो में चोरी का कोयला खरीद उसे महँगे दामो में बेच कर मालामाल हो रहे है।एक अनुमान के मुताबिक क्षेत्र में हजारो टन चोरी के कोयले की खुलेआम ख़रीदी-बिक्री हो रही है जिससे शासन को राजस्व क्षति के साथ चोरी के कारोबार को बढ़ावा मिल रहा है।इनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई नही होने से इस क्षेत्र में चोरी के कोयले का यह अवैध कारोबार क्षेत्र में बड़ी तेजी से पैर पसारने लगा है जिससे आने वाले समय मे यहाँअराजक माहौल निर्मित हो जायेगा।

इस संबंध में एस डी ओ पी ए चंद्राकर ने कहा कि इस संबंध में पुलिस को वहाँ भेजकर जानकारी लेंगे अगर चोरी का कोयला पाया जायेगा तो सबके विरुद्ध कार्रवाई होगी।

  • 27
    Shares