गृह मंत्री के इस बयान से..बुझ ना जाये पुलिस आंदोलन की आग…

28578
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add

अम्बिकापुर प्रदेश मे शिक्षाकर्मियो, आंगनबाडी कार्यकर्ताओ और नर्सो के बाद अब पुलिस कर्मियो की तरफ से सहुलियत की मांग उठने लगी है… वैसे तो ये मांग सीधे तौर पर विभाग के पुलिसकर्मी नही कर रहे है.. लेकिन उनके परिजन पुलिसकर्मियो की 11 मांग मनवाने के लिए आंदोलन की राह इख्तयार कर चुके हैं.. ऐसे मे प्रदेश के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा ने आंदोलन को हवा देने वाले कर्मचारियो पर कार्यवाही करने की बात कह कर आग मे पानी डालने का काम किया है…
प्रदेश के अधिकांश जिला मुख्यालय के साथ सरगुजा जिला मुख्यालय अम्बिकापुर मे पुलिस आंदोनल की चिंगारी भडकने लगी है… पिछले तकरीबन एक सप्ताह से पुलिसकर्मियो के परिजन… अपने बेटे, पति औऱ भाई के लिए 8 घंटे ड्यूटी, सप्ताह मे एक दिन छुट्टी, आवास, इलाज, और मध्यप्रदेश की तर्ज पर शहीद पुलिस कर्मी के परिजनो को 1 करोड रुपए देने के साथ साईकिल भत्ते की जगह मोटरसाईकल भत्ते देने जैसी 11 मांग को लेकर धीरे धीरे आंदोलन की राह पर आ रहे है…

इसी बीच आज प्रदेश के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा ने योग दिवस के आय़ोजन के बाद मीडियाकर्मियो से चर्चा करते हुए आंदोलन करने वाले लोगो के लिए मु्श्किले खडी कर दी है…. मीडिया के सवाल के जवाब मे श्री पैकरा ने कहा कि देश, प्रदेश औऱ समाज की रक्षा करने वाले पुलिस वालो के हित का ख्याल सरकार करती है.. और ऐसे मे पुलिस आंदोलन को शुरु करने वाले रिटायर्ड और बर्खास्त कर्मचारियो के खिलाफ कडी कार्यवाही होगी….

देखे वीडियो.

गौरतलब है कि प्रदेश मे सभी विभाग के कर्मचारी समय समय पर अपने संघ और संस्था के बैनर तले सरकार से अपनी मांग मनवाते रहें है… लेकिन प्रदेश मे पुलिस वालो का कोई संगठन नही होने से उनको अभी तक साईकिल भत्ते मे ही गुजारा करना पड रहा है.. ऐसे मे पुलिस आंदोलन की आग मे पानी डालने वाले एचएम के बयान के बाद आंदोलन की चिंगारी आग बनती है या फिर बुझ जाती है.. ये देखना होगा..

  • 29
    Shares
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add