कांग्रेस के इफ्तार पार्टी में शामिल होगा..समूचा विपक्ष..सिवाए 1मुख्यमंत्री को छोड़कर…

नईदिल्ली राहुल गांधी बतौर कांग्रेस अध्यक्ष पहली इफ्तार पार्टी दे रहे हैं. फाइव स्टार होटल में 13 जून को होने वाले धार्मिक व सियासी जमावड़े में लगभग सभी विपक्षी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया गया है। हालांकि इस लिस्ट में एक शख्स को कांग्रेस ने पूरी तरह दरकिनार कर दिया और वो हैं दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल। सिर्फ केजरीवाल ही नहीं पहले तो खबरें थीं कि इस इफ्तार में प्रणब मुखर्जी नहीं बुलाया था। हालांकि इफ्तार में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को न बुलाने पर किरकिरी के बाद पार्टी ने सफाई दी कि प्रणब को न्योता भेजा गया है।

कांग्रेस ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी पार्टी में नहीं बुलाया है। माना जा रहा है कि आप-कांग्रेस के 2019 में साथ चुनाव लड़ने की अटकलों पर जिस तरह से दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन इनकार करते रहे हैं उसी के कारण केजरीवाल को इफ्तार पार्टी का न्योता नहीं दिया गया है।   जानकारों का मानना है कि केजरीवाल को बुलाने से उन खबरों पर मुहर लग सकती थी कि आप-कांग्रेस एक साथ अगला लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं। वहीं प्रणब मुखर्जी को लेकर उपजे विवाद के बारे में पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने पूर्व राष्ट्रपति को निमंत्रण भेजा है, जिसे उन्होंने स्वीकार भी कर लिया है। प्रवक्ता ने एक ट्वीट कर कहा कि अब इस विवाद का अंत हो गया है। इससे पहले सवाल उठने पर पार्टी ने कहा था कि इफ्तार में किसी भी पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व उपराष्ट्रपति को नहीं बुलाया गया है। माना जा रहा है कि मुखर्जी के आरएसएस के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद कांग्रेस विवाद से बचने के लिए ऐसा कर रही है..

साभार –ANI

  • 12
    Shares