शायद बर्फ की तरह सरकार भी पिघल जाए… क्योंकि इन लोगों ने लद्दाख की बर्फिली वादियों मे लिख दिया है संविलियन … ….

7469

अम्बिकापुर छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मियो की मांग अब धरती से आसमान की ओर बढने लगी है .. और शायद छत्तीसगढ़ सरकार के कान मे जूं भी नहीं रेंग रही है… दरअसल सोशल मीडिया साईट फेसबुक मे सूरजपुर के शिक्षाकर्मियो ने कुछ फोटो के साथ एक मैसेज लिखा है.. जिसमे उन्होने लिखा है कि सुरजपुर के शिक्षाकर्मियों ने लद्दाख में विश्व के सबसे ऊंचे रोड पास खरदोंगला के बर्फ में संविलियन लिख दिया है.. मतलब छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मियो मे संविलियन का जो जूनून था … वो अब छत्तीसगढ़ की हरी भरी वादियों के बीच बैठी सरकार के कान को छू कर लद्दाख की सबसे ऊंची बर्फिली चोटी तक पहुंच गया है…. तो देखिए शायद सरकार भी बर्फ की तरह पिघल जाए… गौरतलब है कि सूरजपुर के शिक्षाकर्मी इन दिनो उत्तर भारत के भ्रमण पर हैं…

लद्दाख पर संविलियन लिखने वाले दल के मुखिया सचिन त्रिपाठी की वाल से… पढिए क्या लिखा है

*संविलियन कि ऐसी दीवानगी नही देखी होगी*

*लद्दाख में विश्व के सबसे ऊंचे रोड पास खरदोंगला के बर्फ में सुरजपुर के शिक्षाकर्मियों ने लिखा-संविलियन*

संविलियन का जुनून अब शिक्षाकर्मियो पर कुछ इस कदर हावी हो गया है कि उन्होंने18372 फिट की ऊंचाई पर बर्फ के बीच संविलयन उकेर दिया ।
संयुक्त शिक्षाकर्मी संघ सुरजपुर के सचिन त्रिपाठी,गिरिवर यादव,राकेश शुक्ला, भुवनेशवर सिंह,विक्रम सिंह तोमर ने अपनी लेह लद्दाख यात्रा दौरान विश्व के सबसे ऊंचे रोड पास खरदुंगला में
बर्फ पर संविलियन लिख अपनी आवाज बुलंद की है।
विदित हो कि संयुक्त शिक्षा कर्मी संघ जिला सुरजपुर द्वारा संविलियन के लिए सेल्फी विथ फैमिली,संविलियन ठप्पा अभियान चलाया जा चुका है और अब फिर सुरजपुर जिले के शिक्षाकर्मियों का यह संविलियन जुनून पूरे प्रदेश में चर्चा विषय बना हुवा है।

  • 64
    Shares