आसमान से बरसती रही आग और धरती पर होती रही सौगातों की राहत भरी बरसात….

1210
  • मुख्यमंत्री ने तीन आमसभाओं में किया 647 करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन…
  • लगभग 2.73 लाख किसानों को 370 करोड़ रूपए का धान बोनस: एक लाख से ज्यादा परिवारों को आबादी पट्टे …

रायगढ़ नवतपे के पांचवें दिन आज भी सूरज आसमान से आग बरसाता रहा, जबकि छत्तीसगढ़ की धरती पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में चल रही विकास यात्रा में आम जनता के लिए सुविधाओं और सौगातों की राहत भरी बारिश होती रही। भीषण गर्मी के बावजूद मुख्यमंत्री की तीनों आमसभाओं और तीनों स्वागत सभाओं में हजारों की संख्या में किसानों, मजदूरों और आम नागरिकों का हुजूम उमड़ता रहा। लोगों में भरपूर उत्साह और जज्बा देखा गया। मुख्यमंत्री ने आज जांजगीर-चांपा जिले के बम्हनीडीह, जिला रायगढ़ के छाल और मुख्यालय रायगढ़ की आमसभाओं में जनता को लगभग 647 करोड़ 43 लाख रूपए के 148 कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास किया। वहीं उन्होंने डॉ. रमन सिंह ने आज की तीनों आमसभाओं में दो जिलों-जांजगीर-चांपा और रायगढ़ के दो लाख 72 हजार 722 किसानों को पिछले खरीफ सीजन के धान पर लगभग 370 करोड़ रूपए का बोनस ऑनलाइन वितरित किया। डॉ. सिंह ने लैपटॉप पर बटन दबाकर इंटरनेट के जरिए यह सम्पूर्ण राशि किसानों के बैंक खातों में हस्तांतरित कर दी।
डॉ. रमन सिंह ने रोड-शो के बाद जिला मुख्यालय रायगढ़ में रात में आयोजित विशाल आमसभा में कहा-प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विगत चार वर्ष में देश के विकास को एक नई गति मिली है और पूरी दुनिया में भारत का मान-सम्मान बढ़ा है। डॉ. रमन सिंह ने आज ही विकासखण्ड-मुख्यालय बम्हनीडीह (जिला-जांजगीर-चांपा) और ग्राम छाल (जिला-रायगढ़) में भी विशाल जनसभाओं को सम्बोधित किया। उन्होंने रायगढ़ की आमसभा में कहा-लोकतंत्र में जनता के आशीर्वाद और सहयोग के बिना विकास का कोई भी संकल्प पूरा नहीं हो सकता। राज्य सरकार द्वारा आयोजित प्रदेश व्यापी विकास यात्रा भी वास्तव में जनता से आशीर्वाद लेने की एक बड़ी तीर्थ यात्रा है। प्रदेश के आखिरी गांव तक विकास का संदेश और योजनाओं का लाभ पहुंचाना इस यात्रा का उद्देश्य है। उन्होंने कहा-रायगढ़ जिले की जनता के आशीर्वाद से जिले के विकास के लिए हम सबको ताकत मिली है। मुख्यमंत्री ने रायगढ़ जिले की केलो सिंचाई परियोजना का उल्लेख करते हुए कहा कि लगभग 920 करोड़ रूपए की लागत से इसका निर्माण किया गया है। बम्हनीडीह की आमसभा में मुख्यमंत्री ने सम्पूर्ण जांजगीर-चांपा जिले को ऋषि संस्कृति और कृषि संस्कृति के साथ औद्योगिक विकास की नई संभावनाओं का संगम स्थल बताया। छाल (जिला-रायगढ़) की आमसभा में मुख्यमंत्री ने कहा-यह विकास यात्रा किसानों और मजदूरों की तकलीफों को दूर करने के लिए निकाली गई है।
मुख्यमंत्री के हाथों बम्हनीडीह की आमसभा में एक लाख 32 हजार किसानों को 200 करोड़ रूपए, छाल की आम सभा में 96 हजार किसानों को 96 करोड़ रूपए और रायगढ़ की आमसभा में 44 हजार 720 किसानों को 73 करोड़ 79 लाख रूपए का धान बोनस मिला। इतना ही नहीं, बल्कि डॉ. रमन सिंह की आज बम्हनीडीह और रायगढ़ की आमसभाओं में एक लाख से ज्यादा परिवारों को आबादी पट्टों का भी वितरण किया। इनमें से दस हजार 369 परिवारों को बम्हनीडीह में और 87 हजार परिवारों को रायगढ़ में आबादी पट्टे प्राप्त हुए। मुख्यमंत्री ने तीनों आमसभाओं में शासन की विभिन्न योजनाओं के तहत 42 हजार 426 हितग्राहियों को सामग्री और अनुदान राशि आदि का वितरण किया। मुख्यमंत्री आज सरायपाली (जिला-महासमुन्द) से हेलीकॉप्टर द्वारा जांजगीर-चांपा जिले के बम्हनीडीह आए और वहां की आमसभा को सम्बोधित करने के बाद हेलीकॉप्टर से ही छाल (जिला रायगढ़) पहुंचे। छाल की आमसभा के बाद मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से घरघोड़ा आए, जहां उन्होंने स्वागत सभा को सम्बोधित किया और वहां से विकास रथ में आम जनता का अभिवादन करते हुए बंजारी और गेरवानी में स्वागत सभाओं को सम्बोधित करते हुए जिला मुख्यालय रायगढ़ पहुंचे, जहां विशाल रोड-शो में नगरवासियों ने उनका अभूतपूर्व स्वागत किया।

  • 9
    Shares