सूर्य के तीखे तेवर से.. बड़ी उल्टी दस्त के मरीजो की संख्या…

1243

बालोद (जागेश्वर सिन्हा )पिछले सप्ताह भर से चिलचिलाती धूप और बेमौसम अचानक   बारिश का असर  अब लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। जिस वजह से  जिला अस्पताल में मरीजों की संख्या में दिन-प्रतिदिन इजाफा हो रहा है। मौसम परिवर्तन के कारण सर्दी-खांसी, बुखार, दस्त व अन्य बीमारियों के उपचार के लिए लोग जिले के प्राइवेट व सरकारी अस्पताल पहुँच रहे हैं।बता दे कि बदलते मौसम के चलते जहां कुछ दिनों पूर्व तापमान कम था और अब अचानक बढ़ गया है। दोपहर के समय अधिकतम तापमान 42 से 43 डिग्री  तो वहीं शाम होते की बेमौसम बारिश हो जाती है तो  रात के समय यह न्यनतम तापमान 25 डिग्री से कम रहता है।

पिछले 10दिनों की बात करें तो 2 हजार से अधिक मरीज बीमार होकर जिला अस्पताल  में उपचार करवा चुके हैं। अचानक मौसम में आए बदलाव से जिला अस्पताल में मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। प्रतिदिन लगभग 200, से अधिक मरीज जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं। इससे जिला अस्पताल की व्यवस्था पर भी असर पड़ रहा है। वही गांव में  मितानिन कार्यकर्ता व एएनएम के भरोसे लोगों के स्वास्थ्य की देखभाल तो की जा रही है, लेकिन जिला अस्पताल में आने वाले मरीजों की संख्या कम नहीं हो रही है।

आप रहे सावधान

मौसम में हो रहे परिवर्तन के हिसाब से कपड़ों का पहनाव करें। दोपहर की धूप से बचे तथा शरीर में पानी की कमी न होने दें। तेज धूप में मुंह पर कपड़ा बांधे बिना न निकले गर्मी की तपन कम होने पर ही घर से बाहर निकले। धूप में से आकर तुरंत न तो ठंडा पानी पीएं और न ही ठंडे पदार्थ खाएं। पसीने में भीगने पर तुरंत कूलर या एसी के संपर्क में न आएं। दस्त होने पर ओआरएस का घोल पीएं। लगातार दो-तीन दिन बुखार रहने पर डॉक्टर को  आवश्य दिखाएं।

  • 6
    Shares