नशीली दवाइयों की बड़ी खेप पकड़ाई.. जिले में अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही..!

9328
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add
पटना आशीष सोनी- कोरिया जिले के पटना थाना के अंतर्गत ग्राम करजी के पास क्राईम ब्रांच व पटना पुलिस की संयुक्त टीम ने बनारस से कोरिया जिले के बैकुन्ठपुर में अवैध नषीली दवाईयों का ब्रिकी करने परवेज अहमद आत्मज रियाज अहमह (38) को सेंट्रो वाहन क्रमांक सीजी 12 डी 8126 में 227880 रूपये की नषीली दवाई के साथ घेराबंदी कर धर दबोचा।
ज्ञात हो कि कोरिया जिले में पड़ोसी राज्यों से नषीली दवाईंयों का ब्रिकी का अवैध करोबार नषेड़ीयों द्वारा काफी दिनों से किया जा रहा है कई बार जिले में नषीली दवाईंयो का अवैध कारोबार करने वाले पर पुलिस द्वारा कार्यवाही भी की गई जिसके बावजूद यह कारोबार कम होने के बजाय तेजी से फल-फूल रहा था जिस पर अंकुष लगाने के लिये क्राईम ब्रांच व पुलिस जी तोड़ मेहनत कर रही थी और लगातार मुखबीरों से सूचना मिलने पर नषीली दवाईं बेचने वाले व लाने वाले पर कड़ी कार्यवाही की जा रही थी। गुरूवार को भी क्राईम ब्रांच को उत्तर प्रदेष के बनारस से भारी मात्रा में नषीली दवाईं आने खबर लगने के बाद जिस पर पुलिस अधीक्षक कोरिया के निर्देष में तत्काल क्राईम ब्रांच व पटना पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर आरोपी को पकड़ने का जाल बुना गया। जिसमें उत्तर प्रदेष के बनारस से सेंट्रो वाहन क्रमांक सीजी 12 डी 8126 में आ रहा नषीली दवाईंयो का जखीरा को पकड़ने के लिये पटना पुलिस व क्राईम ब्रांच की संयुक्त टीम को वाहन के पीछे करीब दो किमी पीछा कर करजी के बालक हाईस्कूल के मैदान में पकड़ा। जिसमें आरोपी परवेज अहमद आत्मज रियाज अहमद (38) निवासी बैकुन्ठपुर एमएलए नगर को नषीली दवाईंयों के साथ गिरफतार किया। आरोपी के गाड़ी से 227880 रूपये का नषीली गोली व सिरप जप्त कीया गया। आरोपी को पटना थाना लाया गया जहां आरोपी के खिलाफ अपराध क्रमां 44/18 धारा (सी) एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला पंजीबद्ध कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में क्राईम बं्राच प्रभारी षिवेन्द्र राजपुत पटना थाना प्रभारी आनंद सोनी, सउनि धनंजय सिंह, षिवकुमार यादव, प्रधान आरक्षक आषीश मिश्रा, अजय बघेल, आरक्षक अजय पोया, दीपक पाण्डेय, मुमताज खान, पुश्कल सिन्हा, अरविन्द कौल, हुकुम, राधेकृश्ण साहूू की अहम भूमिका रही।
आरोपी ने भागने की कोषिष – आरोपी पीछे आ रही पुलिस की गाड़ी को देखकर अपनी वाहन की गति तेज कर दिया व भागने कोषिष किया गया पुलिस को रोड़ बदलकर चकमा देकर भागने की कोषिष किया पर आरोपी के वाहन का पहिया पंचर हो गया और आरोपी पुलिस से बचने के लिये पंचर गाड़ी को दौड़ते हुये करजी हाईस्कूल के ग्राउंड में घुसा दिया फिर भी पुलिस उसके पीछे पहुंच गई और आरोपी को भागने तक का मौका नहीं मिल पाया। भागने के चक्कर में आरोपी ने गाड़ी का षीषा भी तोड़कर भागना चाहा तबतक पुलिस चारों तरफ से घेरकर धरदबोचा।
अब तक की नषीली दवाईयों के विरूद्ध बड़ी कार्यवाही –  जिले में पुलिस विभाग के द्वारा कई बार नषीली दवाईंयो का जखीरा पकड़ा गया पर इस बार सबसे अधिक रकम की नषीली दवाई पकड़ने में पुलिस को कामयाबी मिली। इस कार्यवाही से नषीली दवाईं का अवैध करोबार करने वालों में होगा दहषत।
लम्बे समय से कर रहा था नषीली दवाईंयों का कारोबार – क्राईम ब्रांच प्रभारी षिवेन्द्र राजपुत व पटना थाना प्रभारी आनंद सोनी ने बताया कि यह आरोपी लम्बे समय से नषीली दवाईंयों का कारोबार व उसका सेवन कर रहा था। इसके साथ इसके और भी दोस्त षामिल है पर वह इस बार आरोपी से विवाद होने के वजह से षामिल नहीं हुये थे और इसके कुछ दोस्त पहले भी नषीली दवा के कारोबार में जेल जा चुके है।
यह नषीली दवाईयां छत्तीसगढ़ में है प्रतिबंध इसलिये पड़ोसी राज्यों से पहुंचता है कोरिया जिला में –छत्तीसगढ़ में दवाई दुकानों में स्पाईजमो व आरोपी से बरामद कफ सिरप प्रतिबंधित है व छत्तीसगढ़ में बिना चिकित्सक के प्रीसकेपषन के बिना नहीं मिलती है। इसलिये यहां आदतन नषेड़ी ऊंचे दामों में अन्य राज्यों से नषीली दवाईंयो की तस्करी करने वाले से लेते है और यह लोग इसकी तस्करी इसलिये करते है ताकि इन्हें इसके एवज में मोटी रकम नषेड़ीयों से मिलती है इन दवाईंयों के आदि युवा वर्ग इस प्रकार लिप्त हो जाते है कि गिरोह का नाम भी नहीं बताते है।
  • 31
    Shares
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add