बेटे ने धारदार हथियार से सोते हुये मां, पत्नि, बेटे-बेटी व बहु पर किया जानलेवा हमला..!

9042

@Ashissoni

पटना। तड़के करीब 4 से 5 बजे पटना निवासी राकेष गुप्ता ने अपने मां द्रोपदी गुप्ता जो एक सेवा निवृत षिक्षिका (70), पत्नि सरिता (35), पुत्री समृद्धि (15),पुत्र सिद्धार्थ गुप्ता (8), अनुजवधु निधि गुप्ता (30) को चाकू व कुल्हाड़ी से अचानक सोते हुये जानलेवा हमला कर दिया। मौके पर आरोपी राकेष गुप्ता की बहु ने बच्चे को चाकू से हमला करते देखा और अपने जेड राकेष को धक्का देकर खुद को बाथरूम में जाकर बंद कर लिया जिससे उसको मामूली हाथ में चोट आया। इसी बीच इस वारदात को अंजाम देते हुये राकेष गुप्ता ने खुद को भी चाकू से घायल कर लिया गया। घर में सुबह-सुबह हल्ला-गुल्ला होने से घर के सामने से पटना पुलिस स्टाफ का एक कर्मचारी जो कि उसी रास्ते से गुजरते वक्त घर में षोर सुनकर मौके की जानकारी लेकर थाना को सूचना दिया। जिससे मौके पर पुलिस ने घायलों को पटना जिला सामुदायिक अस्पताल पटना लाया गया। जहां चिकित्सको ने घायल माॅं व पत्नि को अम्बिकापुर के लिये रेफर कर दिया वहीं आरोपी व बेटा-बेटी जिला चिकित्सालय बैकुन्ठपुर में भर्ती है। जहां माॅं की स्थिति नाजूक बनी है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पटना थाना में प्रार्थी निधि गुप्ता ने रिर्पोट दर्ज करा कर सूचना दी की आरोपी राकेष गुप्ता अपने घर पर नषे की हालत में बीबी,मां,बच्चों व पत्नि को धारदार हथियार से जानलेवा हमला किया गया। जहां मेरा एक माह के बच्चे के ऊपर चाकू हमला करते हुये मैंने देख लिया तथा उसे धक्का दिया जिससे चाकू मेरे हाथ में लग गयी। और उस बच्चे को बाथरूम में लेकर अपना जान बचाई और चिल्लाने लगी।
प्रार्थी के रिर्पोट पर आरोपी के खिलाफ धारा 307 का धारा विवेचना में लिया गया। बाकी की पूछताछ से पता चला की आरोपी राकेष गुप्ता जो एक आदतन नषेड़ी था जो नषे की हालत में था।

मौके पर सूचना मिलते ही समय पर पहुंची पुलिस की टीम –
पटना थाना प्रभारी आनंद सोनी ने मौके पर पहुंचकर घायलों को पटना सामुदायिक अस्पताल में भर्ती कराया गया व मामले को गंभीरता से लेते हुये उनकी तत्परता से घायलों को बिना किसी देरी किये अम्बिकापुर व बैकुन्ठपुर के लिये रेफर कर दिया गया। उनके अनुसार ये वारदात 5 बजे के आसपास अंजाम दिया गया तथा जानकारी मिलते ही तत्काल आकर घायलों की मदद कि गई।
नषे की लत बढ़ रहा क्षेत्र अपराध का ग्राफ – इन दिनों क्षेत्र में पिछले चार माह के दौरान पटना थाना क्षेत्र में 9 हत्या व खुदकुषी, चोरी का मामला चैंकाने वाले है। पटना क्षेत्र में अपराध व चोरी, सूदखोरी, जुआ, नषाखोरी व अवैध तरीके से कोयला की तस्करी, अवैध ईंट भट्ठे, क्षमता से अधिक ओवरलोड पर जैसे लगाम नाम की कोई चीज ही नहीं। जिससे क्षेत्र व जनमानस में चर्चा है जबकि थाना प्रभारी ने हत्या जैसे संगीन मामले में तत्परता दिखाते हुये अधिकांष केष का निराकरण बहुत ही अल्प समय में किया।

  • 4
    Shares