वीडियो : शौचालय निर्माण से पीड़ित पंचायत कर्मी रेलवे ट्रैक पर कर रहा था आत्महत्या और फिर…?

8140

@Krishnmohankumar

रायगढ़ गांव  को ओडीएफ तो करवा दिया,लेकिन गाँव मे बने शौचालयो का पैसा आज तक नही मिला,अधिकारियों से बकाया पैसों के लिए कईं बार मिन्नते की लेकिन कही कोई सुनवाई नही ,शौचालय निर्माण के लिए उधार में सामान खरीदा,एसबीएम व मनरेगा मद से शौचालय बनवाये और अब दुकानदार पैसों के लिए दबाव बना रहे,क्या करे,यही सोचा आज खुद को मिटा दू!…
यह कहना है उस बेबस और लाचार हो चुके पंचायत सचिव की जो सरकारी नुमाइन्दा होकर सरकारी सिस्टम से लड़कर हार गया,जिसके कंधो पर भारत को स्वच्छ बनाने का जिम्मा था,जिसने दिन रात मेहनत कर गांव में शौचलय बनवाये,शौचलय बनाने संसाधन जुटाए,गाँव को ओडीएफ(खुले में शौच मुक्त)घोषित करवाया।

दरसल छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह आज रायगढ़ जिले के खरसिया प्रवास पर है ,इसी दौरान  खरसिया विकासखण्ड के ग्राम पंचायत रजकट्टा का पंचायत सचिव रोहणी कुमार नायक रेल्वे ट्रैक पर लेट कर आत्महत्या करने की कोशिश कर रहा था,जिसे  खरसिया पुलिस ने बचा लिया है,तथा उसे अपने साथ थाने ले आई है।

सिस्टम से लाचार…

मोदी जी के स्वच्छ भारत अभियान से देश के गाँवो में शौचालय तो बन गए ,और ओडीएफ भी घोषित कर दिए गए,शौचालय निर्माण को लेकर समूचे राज्य में कई तरहों की खबरे निकल कर आई लेकिन अब जो खबर निकल कर आ रही है,वह ओडीएफ का काला सच है,और लापरवाहियों की इंतहा हो गई।

वीडियो में सुनिए सचिव की दास्तान –

  • 24
    Shares