जानिये,अनुराग सिंह देव ने क्यों कहा की भ्रम फैलाया जा रहा है की टी.एस.सिंह देव सूरमा हैं..!

814
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add

अम्बिकापुर छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव का संख्नाद करते हुए कांग्रेस के कई दिग्गज नेता दो दिन के सरगुजा दौरे पर थे.. और इस दौरान कई सियासी बयान भी सामने आये.. कांग्रेस नेताओ के इस दौरे पर भाजपा की ओर से भी बयान आने शुरू हो गए है.. इस संबंध में प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए भाजपा प्रदेश महामंत्री अनुराग सिंह देव ने कहा है की सरगुजा मे राष्ट्रीय एवं प्रदेश स्तर के कांग्रेस नेताओं का जमावड़ा एवं तीन दिवसीय प्रवास सरगुजा की आठ सीटों में कांग्रेस की गिरती हुई साख को बचाने की कवायद मात्र है।

 

भाजपा प्रदेश मंत्री अनुराग सिह देव ने विज्ञप्ति जारी कर यह कहा कि राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री सौदान सिंह के सरगुजा प्रवास एवं मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने निरन्तर सरगुजा आकर जिस प्रकार से विकास कार्यों की सौगात दी है उसके मद्देनजर व विशेष रुप से केन्द्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास एवं उज्जवला गैस से गांव,गरीब,किसान ,मजदूर के बीच सरगुजा की आठ सीटों मे भाजपा के बढ़ते हुये प्रभाव का आकलन कर कांग्रेस नेताओं द्वारा हड़बड़ाहट मे सरगुजा की ओर रुख किया गया है।

 

कांग्रेस नेताओं द्वारा लगातार यह भ्रम फैलाया जा रहा है कि कांग्रेस सरगुजा मे बहुत मजबूत है और नेता प्रतिपक्ष टी.एस सिंहदेव सुरमा है जबकि हकीकत यह है कि स्वयं श्री सिंहदेव विधानसभा के तीन चुनावों में जो वे स्वयं लड़े उसमे से मात्र 2013 के चुनाव मे 15000 के उपर के अन्तर से जीत दर्ज कर पाये जबकि बैकुंठपुर के चुनाव मे वहां निर्दलीय उम्मीदवार के हांथों पराजित हुये थे और 2008 के चुनाव मे वे मुझ जैसे छोटे से कार्यकर्ता से मात्र 800 वोटों के मामुली अन्तर से एन केन प्रकारेण बमुश्किल जीत पाये।

 

प्रदेश मंत्री ने कहा कि कांग्रेस याद करे कि 2003 के चुनाव मे भाजपा उसी स्थिति मे थी जिस स्थिति मे कांग्रेस वर्तमान मे खड़ी है।2014 के लोकसभा चुनावों मे भाजपा ने आठ की आठ सीटों पर जीत दर्ज की जिसमे अम्बिकापुर विधानसभा भी शामिल है। प्रदेश मंत्री ने यह दावा किया कि सौदान सिंह के फार्मूले पर चलकर भाजपा 2003 के चुनाव से भी ज्यादा प्रभावी ढंग से कांग्रेस पर जीत दर्ज करेगी। कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व को छत्तीसगढ़ मे कांग्रेस की दुर्दशा का पुर्वाभास है इसलिए उन्होंने छत्तीसगढ़ में भाजपा से मुकाबला करने के लिये कांग्रेस के तीन-तीन प्रदेशाध्यक्ष बनाये हैं। पहले बघेल अब रामदयाल और शिव डहरिया अध्यक्ष हो गये हैं।

 

प्रदेश मंत्री ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह आदिवासी समाज की जमीन के मुद्दे को सरगुजा मे गलत तरीक़े से प्रस्तुत कर रही है। सरगुजा का आदिवासी समाज यह भलीभांति जानती है कि भाजपा की सरकार मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह के नेतृत्व मे छत्तीसगढ़ मे आदिवासी ऐवं गरीब तबके के लिये देश भर मे सर्वाधिक जन कल्याणकारी योजनाएं बनाकर इन 14 वर्षों मे समाज को विकास का एक नया उजाला दिया है।कांग्रेस चाहे तो इनकी सरकार और भाजपा की सरकार द्वारा आदिवासी समाज के लिये चलाई गई योजनाओं पर खुली बहस कर सकती है।इस चुनौती को स्वीकार करने के लिये भाजपा सदैव तैयार है

  • 153
    Shares
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add