पानी में डूबकर नहीं हुई थी मौत.. की गई थी ह्त्या.. आरोपी गिरफ्तार..!

1221

राजपुर(पूरन देवांगन) पुलिस ने तीन माह पहले भदार में हुए हत्या के मामले को सुलझाने में बड़ी सफलता हासिल की है।पुलिस हत्या में शामिल तीनो आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए जेल भेज दिया है।
जानकारी के अनुसार पेंडारी भदार निवासी एतवा पिता डोको पहाड़ी कोरवा 35 वर्ष का गांव के ही बुधराम पिता भदवा 28 वर्ष,भदवा पिता झिरगा 60 वर्ष एवं मदन पिता मोघनो 42 वर्ष के साथ काफी समय से जमीन का विवाद चल रहा था। 19 अक्टूबर 2017 को दिन में 11 बजे के लगभग मृतक एतवा अपने घर से ससुराल जाने के नाम पर निकला।तभी गांव में ही रास्ते में पडने वाले आरोपी भदवा के घर के पास पहुंचा ही था कि भदवा एवं उसका पुत्र बुधराम ने उससे जमीन विवाद को लेकर रोककर झगड़ा करने लगे।दोनों में विवाद इतना बड़ गया कि आरोपी भादवा एवं उसका पुत्र एतवा को लाठी डंडे से मारपीट कर उसके बाद उसे गला दबा कर मार दिए।आरोपियों द्वारा गला दबाने से एतवा की मौके पर ही मौत हो गई जिसके बाद दोनों आरोपियों ने अपने घर के बाड़ी में पुवाल में लाश को छिपा दिया।दो दिनों तक लाश को छिपाने के बाद आरोपी भदवा ने गांव में ही रहने वाले अपने दमाद मदन को बुलाकर इसकी जानकारी दी।जिसके बाद मदन एवं बुधराम ने मिलकर अपराध को छुपाने के उद्देशय से घर से 100 मीटर की दूरी पर स्थित पेंडारी कोरवापारा तलाब में शव को ले जाकर फेंक दिया।
इधर 3 दिनों बाद 21 अक्टूबर को ग्रामीणों ने पेंडारी कोरवा पारा तालाब में शव मिलने की जानकारी परिजनों को दी गई जिसके बाद परिजनों ने मृतक की पहचान एतवा के रूप में करते हुए इसकी सूचना पुलिस को दी।पुलिस ने मौके पर से शव को बाहर निकलवाकर शव का पीएम कराया जिसमें प्रथम दृष्टया पानी से डूबने पर मौत होना नहीं पाया गया।जिसके बाद पुलिस ने लगातार इस मामले की जांच कर रही थी।वहीं परिजनों ने भी मृतक की हत्या की आशंका को लेकर लगातार उच्च अधिकारियों से शिकायत कर रहे थे।जिसके पश्चात पुलिस ने छानबीन करते हुए संदेह के आधार पर आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

बलरामपुर पुलिस अधीक्षक डी आर अंचला एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एन एल धृतलहरे के दिशा निर्देश एवं थाना प्रभारी किशोर केवट के नेतृत्व में इस अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने पेंडारी भदार निवासी बुधराम,भदवा एवं मदन को गिरफ्तार करते हुए धारा 302, 201,34 के तहत जेल भेज दिया है।पुलिस ने बताया कि मदन पूर्व में भी हत्या के आरोप में जेल जा चुका है।इस कार्यवाही में एस आई के पी सिंह,रमेश एक्का,अरविंद सिंह, विवेक मणि तिवारी,पंकज पोर्ते,प्रमोद यादव सहित महिला आरक्षक बसंती टोप्पो एवं अन्य पुलिसकर्मी सक्रिय थे।।

  • 8
    Shares