Sunday , January 21 2018
Home / breakings / सेक्स सीडी कांड से चर्चा में आए विनोद वर्मा रहे आकर्षण का केंद्र..!

सेक्स सीडी कांड से चर्चा में आए विनोद वर्मा रहे आकर्षण का केंद्र..!

बतौली में लोग उनके साथ फोटो खिंचाते दिखे 

अम्बिकापुर (निलय त्रिपाठी) गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस के बड़े नेता बतौली क्षेत्र के दौर पर भी थे। कांग्रेसियों के जत्थे के साथ कथित सेक्स सीडी कांड से चर्चा में आए पत्रकार विनोद वर्मा भी मौजूद थे। उनके आते ही लोगों का एक हुजूम उनको देखने उमड़ पड़ा। विनोद वर्मा काफी देर तक आकर्षण का केंद्र रहे। इस मौके पर कई लोग और कांग्रेसी कार्यकर्ता उनके साथ फोटो खिंचाते दिखे। विनोद वर्मा ने पत्रकारों से बातचीत भी की और कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया। वही आज शुक्रवार को अंबिकापुर सर्किट हाउस में भी प्रेस वार्ता के बाद लोगो की निगाहे विनोद वर्मा पर टिकी रहीं.. और उनका जनसंपर्क जारी रहा..

 

गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस का समूचा अमला सरगुजा जिले में मौजूद था। बतौली में भी रायपुर विधायक सत्यनारायण शर्मा कांग्रेस के बड़े नेताओं के साथ दोपहर बाद पहुंचे थे। कांग्रेसियों के इसी जत्थे में विनोद वर्मा भी मौजूद थे। गौरतलब है कि कुछ महीने पहले कथित सेक्स सीडी कांड से चर्चा में आए पत्रकार विनोद वर्मा जेल में भी रहे और उसके बाद जमानत पर रिहा हुए। गुरुवार को अचानक बतौली में विनोद वर्मा की मौजूदगी ने लोगों का ध्यान उनकी ओर खींच लिया। कई कांग्रेसी उनके साथ सेल्फी और फोटो खिंचाते दिखे। पत्रकारों के साथ उन्होंने बात करते हुए बताया कि वह प्रशिक्षण स्तर पर कार्य कर रहे हैं। इससे पहले भी वे कांग्रेस के साथ कार्य करते रहे हैं। दो दिनों में सरगुजा के 750 ज़्यादा बूथो पर संपर्क का अभियान सघनता से जारी रहेगा। इस मौके पर प्रत्येक बूथ की कमेटी को विस्तार दिया गया है। पहले सिर्फ दो पदाधिकारियों के साथ पोलिंग बूथ काम करते थे, लेकिन अब 21 सदस्य इसमें मौजूद रहेंगे। ये अलग-अलग तबके के लोग रहेंगे। इससे बुनियादी स्तर पर कांग्रेस में मजबूती आएगी। पोलिंग बूथ का विस्तार वार्ड तक दिया जाएगा। चयनित पदाधिकारी बाद में विशेष प्रशिक्षण के दौर से गुजरेंगे और यह प्रशिक्षण लगातार चुनाव तक जारी रहेगा ।पोलिंग बूथ स्तर तक काम करने से पहले सेक्टर स्तर तक ही कार्य किया गया है। इसके लिए विनोद वर्मा ,सुरेंद्र शर्मा सहित तीन  लोगों ने सेक्टर स्तर पर प्रशिक्षण दिया है। पत्रकार विनोद वर्मा ने आगे कहा कि इस बार नई रणनीति के तहत बूथ स्तर पर कांग्रेस मजबूती से कार्य करना चाहती है, ताकि एक-एक कार्यकर्ता तक पहुंच बनाई जा सके और बूथ स्तर का कार्यकर्ता चुनाव लड़ने के लिए प्रतिनिधि तय कर सके। उन्होंने बताया कि कांग्रेस का केंद्रीय स्तर अब  चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशी घोषित नहीं करेगा बल्कि निचले स्तर से कार्यकर्ताओं की मांग पर प्रत्याशी चयनित किए जाएंगे। गुरुवार को एक से से दो घंटे तक कांग्रेस के बड़े नेताओं के मौजूदगी के बाद भी विनोद वर्मा आकर्षण का केंद्र रहे और लोग उन्हें देखने लालायित दिखे।

 

बहरहाल कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के सरगुजा दौरे में नेताओं से ज्यादा चर्चा और सुर्खियों में विनोद वर्मा देखे गए.. लोग उनसे बात करने उनके साथ सेल्फी लेने के लिए उत्सुक दिखे.. लिहाजा इससे कथित सीडी काण्ड से जबरदस्त सुर्खियों में आये विनोद की लोप्रियता तो दिखी लेकिन इस लोकप्रियता के असल मायने क्या है यह कहा नही जा सकता..

Check Also

AAP पर संकट : राष्ट्रपति के फैसले के खिलाफ आम आदमी पार्टी जाएगी कोर्ट..!

आम आदमी पार्टी के 20 विधायक अयोग्य करार दिए गए है। लाभ के पद (ऑफिस …

Leave a Reply