अब पेट्रोल की जगह लेगी बीयर.. बीयर के प्रयोग से चलेंगी गाड़ियाँ..!

330

पेट्रोल को आमतौर पर गाड़ियों में ईंधन के रूप में प्रयोग किया जाता है, पर अब गाड़ियों को चलाने के लिए पेट्रोल के स्थान पर बीयर का उपयोग किया जाएगा। इस खबर को पढ़ कर आप शायद चौंक गए होंगे क्योंकि सामन्तय बीयर का उपयोग हम लोग पेय पदार्थ के तौर पर करते है। ऐसे में वह पेट्रोल का स्थान कैसे ले सकती है। इंसान यदि एल्कोहल पीकर गाड़ी चलाता है तो वह कानूनन अपराध है, पर यदि आपकी गाड़ी ऐसा करती है तब कोई बात नहीं। आपको बता दें कि कुछ वैज्ञानिकों ने एक नई तकनीक का पता लगाया है। उसके अनुसार आप अपनी गाड़ी की टंकी को ठंडी बीयर से भरवा सकते हैं और आगे का सफर तय कर सकते हैं। यह तकनीक इंग्लैंड के ब्रिस्टल शहर में पता लगाई गई है।

आज के समय में पारम्परिक ऊर्जा के स्त्रोत लगातार घटते जा रहें हैं। ऐसे में वैज्ञानिक नए नए विकल्पों की तलाश में जुटे हैं। आज वैज्ञानिक यह सोच रहें हैं कि भविष्य में गाड़ियां बिना पेट्रोल के किस प्रकार से चलाई जा सकती है। यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिस्टल के शोधकर्ताओं ने अब ऐसी तकनीक को विकसित किया है जोकि इथेनॉल को बुटेनॉल ईंधन में तब्दील कर देगी। अच्छी बात यह है कि बुटेनॉल, इथेनॉल से अच्छा ईंधन है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि सभी एल्कोहल पेय पदार्थों में वैसे तो इथेनॉल मौजूद है लेकिन इसे बीयर से आसानी से प्राप्त किया जा सकता है और आसानी से ईंधन में बदला भी जा सकता है। अभी आप कार को चलाने के लिए बड़े पैमाने पर बीयर का उपयोग नहीं कर सकते हैं, पर लैब टेस्टिंग के लिए यह एक अच्छा ईंधन विकल्प है। आपको बता दें कि बीयर से ईंधन को बनाने में 5 वर्ष का समय और लगेगा और इसके बाद ही यह कार्य शुरू हो सकेगा। ब्रूट्रोलियम नाम से कई देशों में ईंधन बिक रहा है। न्‍यूजीलैंड तथा फ़्रांस में अब लोग ब्रूट्रोलियम से गाड़ी को भरवा कर चलाना भी शुरू कर चुके हैं।