रेलवे ने बनाई नई योजना ट्रेन लेट हुई तो उसी नाम से दौड़ेगी दूसरी ट्रेन..!

418

नई दिल्ली सर्दियों में कोहरे के दौरान ट्रेनें। लेट हो जाती है जिसके रद्द होने की वजह से करोड़ों लोग प्रभावित होते हैं और काफी वित्तीय नुकसान भी होता है। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार अहम कदम उठाने जा रही है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि जल्दी ही सभी ट्रेनों में एक समान 22 कोच की व्यवस्था कर दी जाएगी ताकि किसी भी ट्रेन को किसी भी रूट पर भेजा जा सके।

रेल मंत्री ने कहा जल्दी ही सभी ट्रेनों में 22 कोच की व्यवस्था कर दी जाएगी, इसके अलावा प्लेटफॉर्म की लंबाई भी बढ़ाई जाएगी। रेलवे का इंजीनियरिंग विभाग इसपर काम कर रहा है। फिलहाल भारतीय ट्रेनों में दो तरह के कोच होते हैं ICF और LHB। डिमांड के मुताबिक ट्रेनों में अभी 12, 16, 18, 22 और 26 कोच होते हैं जिस कारण रेलवे किसी ट्रेन के लेट होने पर किसी और खड़ी ट्रेन को उसके नाम से नहीं चला पाती और मुख्य ट्रेन का आने का ही इंतजार करना पड़ता है जिसका खामियाजा यात्रियों को उठाना पड़ता है।

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक इस योजना के तहत रेलवे ने पहले फेज में 300 ट्रेनों और उनके रूट्स की पहचान की है। जुलाई में पब्लिश होने वाले नए टाइम-टेबल में इन बदलावों को देखा जा सकेगा। पहले फेज में 300 ट्रेनों और उनके रूट्स की पहचान की गई है, यह मैनलाइन और बिजी रहने वाले रूट्स हैं।