मंदिर जाने से आपकी सेहत रहती है स्वस्थ.. पड़ता है सकारात्मक प्रभाव..!

649

मन्दिर तो यकीनन आप कई बार गए होंगे, पर बहुत कम लोग जानते हैं कि मंदिर जाने से हमारी सेहत पर भी सकरात्मक प्रभाव पड़ता है और हमारा स्वास्थ्य सही बना रहता है। पुराने समय से ही हर व्यक्ति अपने धर्म से संबंधित धार्मिक स्थानों पर जाता रहा है। हिंदू भी सुबह के समय स्नान कर मन्दिर जाते है और पूजा अर्चना कर अपने दिन की शुरुआत करते हैं। माना जाता है ऐसा करने से सभी काम अच्छे होते हैं और दिन भी शुभ गुजरता है, पर क्या आप जानते हैं कि मंदिर जाने से आपकी सेहत भी अच्छी होती है यदि नहीं तो आज हम आपको इस बारे में बता रहें हैं। आइये जानते हैं मंदिर जाने के सेहत को मिलने वाले फायदों के बारे में।

जब आप मंदिर जाते हैं तो पहला काम घंटी बजाना रहता है। एक रिसर्च में सामने आया है कि मंदिर की घंटी की ध्वनि हमारे कानों में 7 सेकेंड तक गूंजती रहती है। इससे वे पॉइंट एक्टिव हो जाते हैं जो हमारे शरीर को आराम देते हैं। कई बार इस ध्वनि से शरीर की बिमारियां भी दूर हो जाती हैं। इस प्रकार मंदिर में घंटी बजाना सेहतमंद रहता है।

मंदिर जाना वैसे तो सभी मौसम में सही रहता है, पर सर्दी के मौसम में यह और भी लाभदायक हो जाता है। असल में सर्दी के दिनों में बहुत लोगों को सर्दी जुकाम की समस्या बनी रहती है। ऐसे में जब हम मंदिर जाते हैं और अपने दोनों हाथों को जोड़कर भगवान के सामने खड़े होते हैं तो हमारे हाथों के सभी पॉइंट्स पर दवाब बनता है और शरीर में गर्मी की मात्रा बढ़ जाती है। इसके साथ इससे हमारी रोग प्रतिरक्षा प्रणाली भी मजबूत होती है।

आजकल लोगों में ब्लड प्रेशर की समस्या बहुत बढ़ रही है। ब्लड प्रेशर की समस्या वाले व्यक्ति को मंदिर में जाने से बहुत फायदा होता है। असल में जब हम मंदिर जाते हैं तो अपने पैरों के जूतों को बाहर ही निकाल देते हैं। जब हम मंदिर के अंदर नंगे पांव जाते हैं तो वहां की पॉजिटिव एनर्जी को हमारा शरीर पैरों के जरिये सोखता है जिसके कारण ब्लड प्रेशर की समस्या को आराम मिलता है। इसके अलावा पैरों के सभी पॉइंट एक्टिव हो जाते हैं जो ब्लड प्रेशर की समस्या को काफी हद तक कम कर देते हैं। इस प्रकार से मंदिर जाने से हमारे स्वास्थ्य पर बहुत अच्छा प्रभाव पड़ता है।

  • 18
    Shares