अभय सिंह की रिट खारिज…खुद को बताया था एंटी नक्सल ऑपरेशन का अंडर कव्हर कॉप

264
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add

बिलासपुर छत्तीसगढ़ की हाईकोर्ट ने पुलिस से जुड़े एक हाईप्रोफाइल मामले की रिट खारिज कर दी है..दरअसल खुद को एंटी नक्सल ऑपरेशन का अंडर कव्हर कॉप बताने वाले और पुलिस पर गंभीर आरोप लगाने वाले अभय सिंह की रिट हाइकोर्ट ने खारिज कर दी है.. न्यायालय ने फैसला देते हुए बताया है की अभय सिंह के दावे और आरोप असत्य और तथ्यहीन है.. लिहाजा न्यालय ने रिट खारिज करते हुए पंद्रह पन्नों का फैसला दिया है.. अभय सिंह द्वारा लगाई गई रिट में जिन पर नामज़द गंभीर आरोप लगाए गए थे.. और उनसे अपनी जान को ख़तरा बताया था.. न्यायालय ने उसे भी खारिज कर दिया है..

अभय सिंह उर्फ बंटी वर्ष 2013 में सुर्ख़ियो में आया था और मीडिया में इसने अपने हवाले से दावा किया कि..वो नक्सलियो के ख़िलाफ़ अंडर कव्हर कॉप के रुप में काम किया है और आरोप लगाये की पुलिस अधिकारियों के नक्सलियो से सीधे संबंध है.. इसके अलावा पुलिस द्वारा नक्सलियों से फर्जी मुठभेड़ जैसी बाते भी सामने आई थी..  आपको बतादें की अभय सिंह उर्फ बंटी एक बार फिर सुर्ख़ियो में आया था जब इससे मिलने पीसीसी चीफ़ भूपेश बघेल केंद्रीय जेल अंबिकापुर मिलने गए थे.. तब भी प्रदेश में बयान बाजी की सियासत गर्म हो गई थी…

पुलिस पर लगाये इन आरोपों के बाद अभय सिंह ने हाईकोर्ट में रिट दाख़िल की जिसमें यह दावा किया गया कि वह छ.ग. सरकार के एंटी नक्सल ऑपरेशन में प्रशिक्षण प्राप्त अधिकारी है..और उसने जब  नक्सलियो के ख़िलाफ़ काम शुरु किया तो पुलिस के बडे अधिकारी उसके दुश्मन हो गए, क्योंकि अधिकारियों के नक्सलियो से संबंध थे..अभय सिंह ने इस पूरे मामले में कहा की वो पुलिस के राज जान गया है इसलिए उसकी जान को ख़तरा है.. और उसने मामले की उच्च स्तरीय जाँच की माँग की.. वही मामले में हाईकोर्ट ने उच्च स्तरीय जाँच के निर्देश राज्य सरकार को दिए..

बहरहाल न्यायालय के आदेश पर राज्य सरकार ने मामले की उच्च स्तरीय जांच कराई और रिपोर्ट हाईकोर्ट के समक्ष पेश की.. वही हाईकोर्ट ने रिपोर्ट को देखने के बाद, इस रिट को खारिज करते हुए कहा कि..इस मामले में कही गई किसी बात किसी आरोप में तथ्य नही है..न्यायालय ने इस दावे को भी खारिज कर दिया कि..अभय सिंह उर्फ बंटी एंटी नक्सल ऑपरेशन में अंडर कव्हर कॉर्प है.. अदालत ने फ़ैसले में उच्च स्तरीय जाँच समिति के निष्कर्षों का हवाला देते हुए यह माना है कि आरोपो को प्रमाणित करने लायक कोई तथ्य ही नही है.. गौरतलब है की अभय सिंह उर्फ बंटी फ़िलहाल कई प्रकरणों में केंद्रीय जेल में निरुद्ध है..

Hader add
Hader add
Hader add
Hader add