ASI राजेश के आरोपी तो पकडे गए लेकिन नहीं बची उनकी जान…!

कोरिया (आशीष सोनी) भैयाथान थाने में पदस्थ सउनि राजेश प्रताप सिंह के हमलावरों को कोरिया ज़िले की पुलिस टीम ने 24 घंटे में पकड़ने में सफलता हासिल की है..लेकिन बीती रात राजेश प्रताप सिंह की अस्पताल में मौत हो गई.. घटना के बाद पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने तत्काल घायल ASI को अपोलो हॉस्पिटल बिलापुर रवाना करवाया था तथा तत्काल आरोपियो की पतासाजी के निर्देश दिए थे.. लिहाजा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पॉल के नेतृत्व में गठित 6 पुलिस टीम  ने 24 घंटे में पूरी घटना का पर्दाफ़ाश कर 4 आरोपियो को पकड़ लिया.. जिसके बाद पता चला की आपसी विवाद पर पंडो लोगो ने जानलेवा हमला किया था.. आरोपी मधु पंडो, मानकुंवर पंडो, देवी शंकर पंडो, रामाशंकर पंडो को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.. घटना में प्रयुक्त डंडा, लूटा गया ड्राइवर का मोबाइल,गाड़ी के कागजात तथा खून के छीटे लगे कपड़े बरामद किए है.. पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज तथा पुलिस अधीक्षक कोरिया ने टीम के कार्य की प्रशंसा की है.. लेकन कोरिया जिले के पटना थाना क्षेत्र के रनई के पास मरणासन्न अवस्था में मिले राजेश सिंह की अपोलो हास्पीटल में बीती रात करीब 2 बजे मौत हो गई.. हालाकी ASI राजेश को चोट इतनी अधिक थी की ऐसा माना जा रहा था की उनकी हालत नाजुक है..मौके पर जिन लोगो ने राजेश सिंह को देखा था उन लोगो को तो यही लगा था की कोई शव पडा है, लेकिन जब पुलिस मौके पर पहुची तो पता चला की राजेश की साँस चल रही थी..

 

  • 3
    Shares